NDTV Khabar

दूसरों से सवाल पूछने की बजाय राहुल को जवाब देना चाहिए : प्रकाश जावड़ेकर

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, "पूरा परिवार ज़मानत पर है. एक अग्रिम ज़मानत पर है, दो नियमित ज़मानत पर. परिवार को 600 करोड़ रुपये का आयकर नोटिस मिला है, और अब वाड्रा के खिलाफ जांच हो रही है."

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दूसरों से सवाल पूछने की बजाय राहुल को जवाब देना चाहिए : प्रकाश जावड़ेकर

मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

रॉबर्ट वाड्रा से प्रवर्तन निदेशालय की पूछताछ को लेकर बीजेपी ने निशाना साधा है. केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, "देश 'परिवार' से इस बात का जवाब चाहता है कि उन्होंने कितना लूटा है. यह विडम्बना है राहुल गांधी इस वक्त प्रधानमंत्री और सरकार से ढेरों सवाल पूछ रहे हैं, लेकिन वह उन सवालों के जवाब नहीं दे रहे हैं, जो देश पूछ रहा है..." प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, "पूरा परिवार ज़मानत पर है. एक अग्रिम ज़मानत पर है, दो नियमित ज़मानत पर. परिवार को 600 करोड़ रुपये का आयकर नोटिस मिला है, और अब वाड्रा के खिलाफ जांच हो रही है, लगातार दूसरे दिन पूछताछ की जा रही है." केंद्रीय मंत्री ने कहा, "दूसरों से सवाल पूछने के बजाय राहुल को जवाब देने चाहिए. उन्हें हमसे सवाल करने का क्या अधिकार है? लोग सच्चाई को समझते हैं कि कांग्रेस भ्रष्ट है. कोई राजनैतिक बदला नहीं है. हम CBI से मिले हुए नहीं हैं, हम भी इसका विरोध करते हैं. हम PMO में CBI की रिपोर्ट नहीं बदलते, वह कांग्रेस की आदत थी."

राहुल गांधी ने कहा, PM मोदी हताश हैं, कार्यकर्ता ना लगाए मुर्दाबाद के नारे


गौरतलब है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बहनोई रॉबर्ट वाड्रा से विदेश में कथित तौर पर अवैध संपत्ति रखने के संबंध में धन शोधन से जुड़े एक मामले में गुरुवार को दूसरी बार पूछताछ की. वह सुबह करीब 11 बजकर 25 मिनट पर मध्य दिल्ली के जामनगर हाउस में ईडी कार्यालय पहुंचे. इससे एक घंटे पहले उनके वकीलों की टीम वहां पहुंची. वाड्रा से मामले में बुधवार को पहली बार साढ़े पांच घंटे तक पूछताछ की गई. दो घंटे की पूछताछ के बाद वह दोपहर के भोजन के लिए निकले और करीब एक घंटे बाद पूछताछ के लिए फिर पहुंचे.

अधिकारियों ने बताया कि वाड्रा से गुरुवार को दोबारा पूछताछ करने तथा ब्रिटेन में अचल संपत्ति हासिल करने के संबंध में और सवाल पूछने की जरूरत थी. उन्होंने बताया कि उनका बयान धन शोधन निरोधक कानून (पीएमएलए) के तहत दर्ज किया जाएगा जैसे कि बुधवार को किया गया था. मामले के जांच अधिकारी समेत ईडी के तीन अधिकारियों की टीम ने उनसे सवाल पूछे. वाड्रा की पत्नी प्रियंका गांधी बुधवार को जामनगर हाउस स्थित एजेंसी के दफ्तर के बाहर तक उनके साथ गयीं थी.

टिप्पणियां

इस कदम को लोकसभा चुनावों से पहले कांग्रेस विरोधियों के लिये राजनीतिक संदेश के तौर पर देखा जा रहा है. वाड्रा को ईडी कार्यालय छोड़ने के शीघ्र बाद प्रियंका ने अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश के प्रभारी का पदभार संभाला. लंदन से बुधवार को लौटे वाड्रा के समर्थन में प्रियंका गांधी ने कहा, ‘‘वह मेरे पति हैं, वह मेरा परिवार हैं...मैं अपने परिवार का समर्थन करती हूं.'' यह पहली बार है कि वाड्रा कथित संदिग्ध वित्तीय लेनदेन के संबंध में किसी भी जांच एजेंसी के समक्ष पेश हुए हैं.

VIDEO: मनी लॉन्ड्रिंग केस: रॉबर्ट वाड्रा से आज फिर हुई पूछताछ



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement