NDTV Khabar

मोदी सरकार का सख्त एक्शन, निराशाजनक प्रदर्शन के आधार पर IPS अफसर टर्मिनेट

मिजोरम में तैनात आईपीएस अधिकारी लिंगला विजय प्रसाद को केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने पुलिस सेवा से बर्खास्त कर दिया.

355 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
मोदी सरकार का सख्त एक्शन, निराशाजनक प्रदर्शन के आधार पर IPS अफसर टर्मिनेट
नई दिल्ली: मिजोरम में तैनात आईपीएस अधिकारी लिंगला विजय प्रसाद को केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने निराशाजनक प्रदर्शन के आधार पर पुलिस सेवा से बर्खास्त कर दिया. मंत्रालय के एक अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि अरुणाचल प्रदेश, गोवा, मिजोरम और संघ क्षेत्र (एजीएमयूटी) कैडर के 1997 बैच के आईपीएस अधिकारी प्रसाद की सेवाओं को असंतोषजनक पाये जाने पर यह कार्रवाई की गई है. डीआईजी रैंक के अधिकारी प्रसाद की बतौर आईपीएस अधिकारी, 15 साल की सेवाओं की समीक्षा रिपोर्ट में उन्हें सेवायें जारी रखने के लिये अक्षम पाया गया.

नियमानुसार अखिल भारतीय सेवा के अधिकारियों के प्रदर्शन की दो बार समीक्षा की जाती है. पहली समीक्षा सेवाकाल के शुरुआती 15 साल पूरे होने पर और फिर 25 साल बाद दूसरी समीक्षा की जाती है.

अधिकारी ने बताया कि पुलिस सेवा के शिथिल पड़ चुके अधिकारियों की पहचान के लिये निश्चित समयांतराल के बाद यह समीक्षा की जाती है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता वाली नियुक्ति संबंधी मंत्रिमंडलीय समिति की मंजूरी के बाद गृह मंत्रालय ने कल प्रसाद की बर्खास्तगी का आदेश जारी किया है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement