क्या अरविंद केजरीवाल 'अभी भी' शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों के साथ हैं? मुख्यमंत्री ने दिया ये जवाब

हाल ही में एक न्यूज चैनल के कार्यक्रम के दौरान दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री और AAP के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने साफ कहा कि वह शाहीन बाग के लोगों के साथ खड़े हैं.

क्या अरविंद केजरीवाल 'अभी भी' शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों के साथ हैं? मुख्यमंत्री ने दिया ये जवाब

CM अरविंद केजरीवाल ने शाहीन बाग के प्रदर्शन को लेकर अपनी बात रखी. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • शाहीन बाग में 40 दिनों से हो रहा प्रदर्शन
  • CAA को वापस लेने की कर रहे हैं मांग
  • अरविंद केजरीवाल ने किया था समर्थन
नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी (AAP) और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) पर लगातार यह आरोप लग रहा है कि वह नागरिकता कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) का विरोध तो कर रहे हैं, संसद में भी इसके विरोध में ही वोट दिया लेकिन  इसको लेकर हो रहे जगह-जगह प्रदर्शन खासतौर से शाहीन बाग (Shaheen Bagh) में चल रहे लगातार धरना प्रदर्शन से दूरी बनाए हुए हैं. हाल ही में एक न्यूज चैनल के कार्यक्रम के दौरान दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री और AAP के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने साफ कहा कि वह शाहीन बाग के लोगों के साथ खड़े हैं.

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे. इस दौरान उनसे सवाल पूछा गया कि क्या अरविंद केजरीवाल अभी भी शाहीन बाग के लोगों के साथ खड़े हैं. इस पर अरविंद केजरीवाल ने कहा, 'अभी भी का मतलब? हम दिल्ली के हर नागरिक के साथ हैं. हम दिल्ली के हर नागरिक का भला चाहते हैं. हम संगम विहार के साथ भी हैं. हम राजिंदर नगर के साथ भी हैं. हम दिल्ली के हर नागरिक को अच्छी शिक्षा देना चाहते हैं. हम दिल्ली के हर नागरिक को अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं देना चाहते हैं. हम अच्छी सड़कें चाहते हैं. अच्छी बिजली चाहते हैं. अच्छा पानी चाहते हैं. देश की प्रगति उसी से होगी.'

CAA के खिलाफ केरल सरकार के SC जाने से नाराज राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान, कहा- मैं सिर्फ रबर स्टैंप नहीं

आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी दिल्ली विधानसभा चुनावों में दिल्ली के मुद्दे जैसे- बिजली, पानी, शिक्षा, स्वास्थ्य आदि के मुद्दे उठा रही है जबकि बीजेपी नागरिकता कानून से जुड़ा मुद्दा उठा रही है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) भी दिल्ली चुनाव में बीजेपी का प्रचार कर रहे हैं. वह कई जनसभाओं में CAA का मुद्दा उठा चुके हैं. गौरतलब है कि दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों पर 8 फरवरी को वोट डाले जाएंगे. 11 फरवरी को नतीजों का ऐलान होगा. 2015 में हुए चुनाव में AAP ने 67 सीटें जीतकर रिकॉर्ड बनाया था. अरविंद केजरीवाल इस बार भी नई दिल्ली विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: शाहीन बाग में CAA के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों से मिलेंगे बाबा रामदेव