NDTV Khabar

गौरी लंकेश हत्‍याकांड पर प्रमोद मुतालिक बोले, क्‍या पीएम को हर कुत्‍ते की मौत पर प्रतिक्रिया देनी चाहिए?

कर्नाटक में श्रीराम सेना के विवादित प्रमुख प्रमोद मुतालिक ने पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या पर टिप्पणी करते हुए कहा कि क्या कर्नाटक में किसी कुत्ते के मरने पर भी मोदी ज़िम्मेदार हैं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गौरी लंकेश हत्‍याकांड पर प्रमोद मुतालिक बोले, क्‍या पीएम को हर कुत्‍ते की मौत पर प्रतिक्रिया देनी चाहिए?

कर्नाटक में श्रीराम सेना के प्रमुख प्रमोद मुतालिक

खास बातें

  1. किसी कुत्ते के मरने पर भी मोदी ज़िम्मेदार हैं
  2. क्‍या हर कुत्‍ते की मौत पर पीएम को जवाब देने की जरूरत है
  3. प्रधानमंत्री मोदी पर उंगली उठाई गई और केंद्र सरकार को फ़ेल बताया गया
बेंगलुरू :

कर्नाटक में श्रीराम सेना के विवादित प्रमुख प्रमोद मुतालिक ने पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या पर टिप्पणी करते हुए कहा कि क्या कर्नाटक में किसी कुत्ते के मरने पर भी मोदी ज़िम्मेदार हैं और क्‍या हर कुत्‍ते की मौत पर पीएम को जवाब देने की जरूरत है. श्रीराम सेना प्रमुख ने कहा, कि कर्नाटक में दो हत्याएं हुईं तो हंगामा मच गया. प्रधानमंत्री मोदी पर उंगली उठाई गई और केंद्र सरकार को फ़ेल बताया गया लेकिन कांग्रेस शासन में जब महाराष्ट्र में इसी तरह से दो हत्याएं हुई थीं, तो किसी ने भी वहां की सरकार को फ़ेल नहीं बताया था. आपको बता दें, कि गौरी लंकेश हत्याकांड में श्रीराम सेना से जुड़े कुछ लोग भी शक़ के घेरे में हैं.

गौरी लंकेश हत्‍याकांड सुलझाने के करीब पहुंची SIT, पर ये 'चुनौती' अब भी बरकरार


इस मामले में पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता गौरी लंकेश की हत्या की जांच कर रहे विशेष जांच दल (एसआईटी) ने मामले में श्रीराम सेना के विजयपुरा जिला अध्यक्ष राकेश मथ को पूछताछ के लिए सम्मन भेजा है. वहीं, लंकेश के परिवार ने इस मामले की जांच को लेकर संतोष जताया. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि एसआईटी ने मथ से पूछताछ करने का निर्णय किया है क्योंकि गौरी को गोली मारने वाला संदिग्ध परशुराम वाघमारे इसी हिंदुत्ववादी संगठन का सक्रिय सदस्य है. एसआईटी में शामिल इस अधिकारी ने बताया कि वह इस बात का पता लगाना चाहते हैं कि गौरी की नृशंस हत्या में कहीं मथ का भी तो हाथ नहीं है अथवा इस साजिश में शामिल होने के लिए उन्होंने वाघमारे का ‘ब्रेनवाश’ तो नहीं किया है. कर्नाटक में विजयपुरा जिले के सिंदागी शहर में जनवरी 2012 में तहसीलदार कार्यालय के बाहर पाकिस्तानी झंडा फहराया गया था जिससे कि सांप्रदायिक तनाव पैदा किया जा सके. मथ और वाघमारे कथित रूप से इसमें शामिल थे.

आरोपी ने कबूलनामे में कहा, गौरी लंकेश हिंदू विरोधी थी इसलिए उनको मारना पड़ा

एसआईटी का मानना है कि कर्नाटक के विभिन्न हिस्सों और मंगलुरू सहित तटीय इलाकों में मथ का मजबूत आधार है. अधिकारी ने कहा, ‘हमने राकेश मथ को पूछताछ के लिए बुलाया है. वह अब तक नहीं आया है.’लंकेश की पिछले साल पांच सितंबर को बेंगलुरू स्थित आवास के प्रवेश द्वार पर गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी. इस बीच, श्रीराम सेना के संस्थापक अध्यक्ष प्रमोद मुतालिक ने खुद को और अपने संगठन को वाघमारे और गौरी की हत्या से अलग कर लिया है. मुतालिक ने कहा, ‘श्रीराम सेना और वाघमारे के बीच कोई संबंध नहीं है. वह न तो हमारा सदस्य है और न ही हमारा कार्यकर्ता है. यह मैं स्पष्ट रूप से कह रहा हूं.’ उन्होंने कहा कि जब पाकिस्तानी झंडा फहराने का मामला सामने आया था तो कहा गया कि वाघमारे श्रीराम सेना का सदस्य है. हालांकि, उन्होंने यह साबित कर दिया कि वाघमारे उनके संगठन का नहीं, बल्कि आरएसएस का सदस्य है. मुतालिक ने कहा, ‘आरएसएस की वर्दी में मैंने उसकी तस्वीर साझा की. मैंने उस वक्त कहा था कि वह श्रीराम सेना का नहीं, बल्कि आरएसएस का कार्यकर्ता था.’    

श्रीराम सेने प्रमुख प्रमोद मुतालिक को सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं 

टिप्पणियां

परशुराम वाघमारे के पिता अशोक वाघमारे ने कहा कि उसका पुत्र निर्दोष है लेकिन यह नहीं कह सकता कि वह (परशुराम) लंकेश की हत्या के दिन पांच सितम्बर को कहां था. अशोक वाघमारे ने एक कन्नड़ समाचार चैनल से कहा,‘मुझे लगता है कि वह घर पर था.’मथ ने कहा कि वह पूछताछ के लिए पेश होने के एक नोटिस के बाद बेंगलुरू आया है. उन्होंने चैनल से कहा,‘मुझे एक नोटिस मिला था जिसमें पूछताछ (लंकेश हत्या मामले) के लिए मेरी उपस्थिति की जरूरत बताई गई थी. ’ मथ ने कहा कि वह परशुराम वाघमारे का मित्र है और उसकी गिरफ्तारी चौंकाने वाली है. उसने कहा कि उसे विश्वास है कि उसका मित्र इस मामले में बेदाग निकलेगा. उसने इस हत्या मामले में उसकी संलिप्तता से इनकार किया. एसआईटी के कथित हत्यारे को गिरफ्तार किये जाने के कुछ दिनों बाद उनके परिवार ने जांच पर संतोष जाहिर करते हुए कहा कि यह सही दिशा में चल रही है और उन्हें न्याय मिलेगा. लंकेश की बहन कविता और उनकी मां ने पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया से मुलाकात कर जांच में प्रगति को लेकर उनका आभार जताया. विशेष जांच दल (एसआईटी) ने इस सप्ताह की शुरूआत में कथित शूटर परशुराम वाघमारे को सिंदागी से गिरफ्तार किया था.    

VIDEO: गौरी लंकेश हत्या मामले में श्रीराम सेने प्रमुख प्रमोद मुतालिक का विवादित बयान

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement