NDTV Khabar

जम्मू कश्मीर के डीजीपी ने की कश्मीर में ISIS की मौजूदगी की पुष्टि

जम्मू कश्मीर पुलिस ने कश्मीर में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ISIS की मौजूदगी की पुष्टि की है. ISIS की ओर से शनिवार शाम एक पुलिसवाले मुश्ताक अहमद की हत्या की ज़िम्मेदारी लेने के बाद पुलिस ने उसकी मौजूदगी की बात कही है.

216 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जम्मू कश्मीर के डीजीपी ने की कश्मीर में ISIS की मौजूदगी की पुष्टि

जम्मू कश्मीर पुलिस ने कश्मीर में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ISIS की मौजूदगी की पुष्टि की है.

खास बातें

  1. कश्मीर में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ISIS की मौजूदगी की पुष्टि हुई.
  2. पुलिसवाले मुश्ताक अहमद की हत्या की ज़िम्मेदारी ISIS ने ली.
  3. जम्मू कश्मीर में दो अलग-अलग आतंकी हमले हुए थे.
नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर पुलिस ने कश्मीर में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ISIS की मौजूदगी की पुष्टि की है. ISIS की ओर से शनिवार शाम एक पुलिसवाले मुश्ताक अहमद की हत्या की ज़िम्मेदारी लेने के बाद पुलिस ने उसकी मौजूदगी की बात कही है. ISIS के प्रोपेगेंडा पब्लिसिटी विंग अमाक़ ने दावा किया कि उसने हमला किया है और ये जंग की शुरुआत है.

जम्मू एवं कश्मीर मुठभेड़ में घायल आतंकी मरा, पुलिस सूत्रों ने दी जानकारी

इससे पहले नवंबर में भी ISIS ने एक पुलिसवाले पर हमले का दावा किया था लेकिन तब पुलिस ने इसे महज़ एक प्रोपेगेंडा बताते हुए इस दावे को ख़ारिज कर दिया था. अब NDTV से बातचीत में जम्मू कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद ने कहा कि अब ये साफ़ है कि मुश्ताक अहमद पर हमला ISIS ने किया है और ये एक चिंता वाली बात है.

पुंछ में आतंकवादियों के दो ठिकानों का भंडाफोड़, हथियारों का जखीरा बरामद

बता दें, जम्मू कश्मीर में दो अलग-अलग आतंकी हमले हुए थे. जहां दो पुलिसकर्मी शहीद हुए. पहला हमला आतंकियों ने बडगाम ज़िले के चरार-ए-शरीफ़ में एक गार्ड पोस्ट पर किया. हमले में कॉन्स्टेबल कुलतार सिंह घायल हो गए और बाद में अस्पताल में इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया. आतंकी उनके हथियार भी ले भागे. दूसरा हमला श्रीनगर के सौरा में आतंकियों ने पुलिस गार्ड पोस्ट पर हमला कर दिया, जिसमें एक पुलिसकर्मी फ़ारुक़ अहमद शहीद हो गए.

टिप्पणियां
जम्मू-कश्मीर: बडगाम और सौरा में हुए आतंकी हमले में 2 पुलिसकर्मी शहीद

श्रीनगर के सौरा इलाके में हुर्रियत नेता फजल हक कुरैशी के घर के बाहर पुलिस चौकी पर आतंकियों ने हमला किया जिसमें कांस्टेबल फारूख अहमद की मौत हो गयी. उन्होंने बताया कि कुरैशी दिसंबर 2009 में आतंकी हमले में घायल हो गए थे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement