NDTV Khabar

इज़रायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू 6 दिवसीय दौरे पर भारत पहुंचे, पीएम ने प्रोटोकॉल तोड़कर की अगुवाई

पिछले साल जुलाई में पीएम मोदी इज़रायल दौरे पर गए थे, जो किसी भी भारतीय पीएम का पहला इज़रायल दौरा था. इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच संबंधों को नया आयाम मिलने की उम्मीद है.

203 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
इज़रायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू 6 दिवसीय दौरे पर भारत पहुंचे, पीएम ने प्रोटोकॉल तोड़कर की अगुवाई

इज़रायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू का आज से भारत में 6 दिवसीय दौरा

खास बातें

  1. इजरायली पीएम आज भारत पहुंच गए, वह 6 दिन के दौरे पर हैं
  2. पीएम ने गर्मजोशी से उनका स्वागत किया
  3. डिफेंस जैसे अहम मसलों पर बातचीत संभव
नई दिल्ली: इज़रायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू छह दिन के दौरे पर आज भारत यात्रा पर आ गए हैं. पीएम मोदी प्रोटोकॉल तोड़कर उनकी अगुवाई करने पहुंचे. उनके साथ बड़ा व्यापारिक प्रतिनिधिमंडल भी भारत यात्रा पर आया है. किसी विदेशी दौरे पर प्रधानमंत्री के साथ जाने वाला यह सबसे बड़ा व्यापारिक प्रतिनिधिमंडल है. दोनों नेता तीनमूर्ति मेमोरियल में आयोजित हो रहे एक कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं. कार्यक्रम का आयोजन तीन मूर्ति चौक का नाम औपचारिक रूप से तीन मूर्ति हयफा चौक करने के लिए किया जा रहा है.

बता दें कि उनके दिल्ली, अहमदाबाद और मुंबई में उनके मुख्य कार्यक्रम हैं. नेतन्याहू ताजमहल देखने के लिए आगरा भी जाएंगे. कल यानी सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हैदराबाद हाउस में द्विपक्षीय वार्ता करेंगे. पिछले साल जुलाई में पीएम मोदी इज़रायल दौरे पर गए थे, जो किसी भी भारतीय पीएम का पहला इज़रायल दौरा था

बेंजामिन नेतन्याहू ने पीएम मोदी से हिंदी में कहा- 'आपका स्वागत है मेरे दोस्त'

. इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच संबंधों को नया आयाम मिलने की उम्मीद है. विदेश मंत्रालय ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नेतान्याहू सोमावार को बैठक करेंगे जिसमें विभिन्न मुद्दों पर बातचीत होगी तथा सहयोग के नये अवसर तलाशे जाएंगे.इसका मकसद दोनों देशों के बीच विशेष संबंधों को नई ऊंचाई पर ले जाना है.
 
benjamin
नेतान्याहू ने यत्रा पूर्व जारी बयान में कहा, ‘‘आज शाम मैं भारत की ऐतिहासिक यात्रा पर जा रहा हूं. मैं वहां प्रधानमंत्री से मिलूंगा, मेरे मित्र नरेंद्र मोदी से. भारत के राष्ट्रपति और कई अन्य नेताओं के साथ भी मुलाकात करुंगा. हम कई करारों पर दस्तखत करेंगे.’ उन्होंने कहा, ‘हम इस्राइल और दुनिया की इस महत्वपूर्ण ताकत के साथ संबंधों को मजबूत करेंगे. यह हमारे सुरक्षा, आर्थिक, व्यापार और पर्यटन क्षेत्रों के हित में है. इसके अलावा कई अन्य क्षेत्रों को भी फायदा होगा. यह इस्राइल के लिए एक बड़ा वरदान होगा.’

VIDEO- 'इस्राइल के हाइफ़ा में पीएम मोदी ने दी शहीदों को श्रद्धांजलि


मंत्रालय में संयुक्त सचिव (पश्चिम एशिया-उत्तरी अफ्रीका विभाग) बी. बाला भास्कर ने कहा कि दोनों प्रधानमंत्री के बीच बातचीत में फलस्तीन का मुद्दा उठने की संभावना है. इसके अलावा द्विपक्षीय महत्व के मुद्दों पर चर्चा की उम्मीद है। इस्राइली प्रधानमंत्री अहमदाबाद, मुंबई और आगरा भी जाएंगे.

इनपुट- भाषा


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement