NDTV Khabar

ISRO ने जीसैट-11 का प्रक्षेपण टाला, अतिरिक्त परीक्षण के लिए सैटेलाइट को वापस मंगाया गया

इसरो ने अतिरिक्त तकनीकी जांच के लिए भारत में बने अपने सबसे भारी अत्याधुनिक संचार उपग्रह जीसैट -11 के फ्रेंच गुयाना के कोरू से प्रक्षेपण के कार्यक्रम में फेरबदल किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ISRO ने जीसैट-11 का प्रक्षेपण टाला, अतिरिक्त परीक्षण के लिए सैटेलाइट को वापस मंगाया गया

प्रतीकात्मक फोटो.

बेंगलुरु: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने अतिरिक्त तकनीकी जांच के लिए भारत में बने अपने सबसे भारी अत्याधुनिक संचार उपग्रह जीसैट-11 के फ्रेंच गुयाना के कोरू से प्रक्षेपण के कार्यक्रम में फेरबदल किया और उपग्रह को वापस मंगाया है. इसरो ने यह फैसला ऐसे समय लिया जब कुछ सप्ताह पहले सैन्य अनुप्रयोग वाला उसका संचार उपग्रह जीसैट-6 ए सटीक प्रक्षेपण के बाद लापता हो गया था. इसरो के अध्यक्ष के शिवन ने कहा कि वे कुछ परीक्षण करना चाहते हैं और उपग्रह वापस आने की प्रक्रिया में है. उन्होंने कहा, 'हम कुछ परीक्षण करना चाहते थे.' उन्होंने कहा कि फिलहाल कुछ परीक्षण के लिए उपग्रह को भारत वापस लाने की योजना है और फिर हम इसे वापस भेजेंगे. इस प्रक्रिया के लिए केाई समयसीमा तय नहीं की जा सकती.

यह भी पढ़ें :  इस साल के अंत तक के लिए टला चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण

जीसैट -11 की 25 मई को एरियाने अंतरिक्ष रॉकेट के साथ अपने मिशन पर रवाना होने की योजना थी. इसमें 5700 किलोग्राम से अधिक का भार उठाने की क्षमता है. इसरो ने एक संक्षिप्त बयान में कहा, 'मई 2018 में फ्रेंच गुयाना के कोरू से जीसैट-11 के प्रक्षेपण के कार्यक्रम में फेरबदल किया गया है. प्रक्षेपण की संशोधित तारीख बाद में बताई जाएगी.' इसरो ने प्रक्षेपण की तारीख में बदलाव का कोई कारण नहीं बताया.

टिप्पणियां
VIDEO : अंतरिक्ष में इसरो की एक नई उड़ान


हालांकि यूरोपीय अंतरिक्ष ट्रांसपोर्टर 'एरियानेस्पेस' ने अपनी वेबसाइट पर बयान में कहा कि 'वीए 243' संख्या वाले एरियाने 5 के प्रक्षेपण को उपग्रह की अतिरिक्त तकनीकी जांच के लिए स्थगित किया गया है. इसमें कहा गया कि एरियाने 5 का प्रक्षेपण पहले 25 मई को होना था. जीसैट-11 30 मार्च को दक्षिण अमेरिका के फ्रेंच गुयाना के यूरोपीय अंतरिक्ष केन्द्र पर पहुंचा था. गौरतलब है कि इसरो ने हाल में कहा था कि उसने 29 मार्च को प्रक्षेपित जीसैट-6 ए से संपर्क खो दिया है और वह इससे जुड़ने का प्रयास कर रहा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement