NDTV Khabar

कुछ अवसरवादी बीजेपी में जाते हैं तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ता: तृणमूल कांग्रेस

बंगाल में बीजेपी के बेहतरीन प्रदर्शन के बाद यहां लगातर टीएमसी के विधायक और पार्षद बीजेपी में शामिल हो रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कुछ अवसरवादी बीजेपी में जाते हैं तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ता: तृणमूल कांग्रेस

बीजेपी ने पश्चिम बंगाल में इस बार 18 सीट जीतीं हैं.

कोलकाता:

लोकसभा चुनाव में बीजेपी की जीत के बाद पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस (TMC) विधायकों एवं नेताओं का पाला बदलने का सिलसिला जारी है. दो दिनों के भीतर तृणमूल कांग्रेस के तीन विधायक बीजेपी में शामिल हो चुके हैं. ऐसे में बुधवार को टीएमसी की ओर से कहा गया कि यदि कुछ अवसरवादी विधायक अपनी निष्ठा छोड़ते हैं तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ता. तृणमूल कांग्रेस ने यह भी दावा किया कि भगवा पार्टी में शामिल होने वालों में से कुछ को ऐसा करने की धमकी दी गई थी. तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तापस रॉय ने कहा, ‘यदि एक या दो अवसरवादी विधायक बीजेपी में शामिल हो जाते है तो इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता. कुछ अवसरवादी हैं और इनमें से कुछ को ऐसा करने के लिए धमकाया गया था.'

बता दें  बुधवार को तृणमूल विधायक मोनिरूल इस्लाम बीजेपी में शामिल हो गए. मंगलवार को भी तृणमूल के दो विधायक और 50 से अधिक पार्षद बीजेपी में शामिल हो गए थे. शामिल हुए विधायकों में बीजेपी नेता मुकुल रॉय के पुत्र शुभ्रांशु रॉय भी शामिल हैं. 


BJP ज्वाइन करने वाले विधायकों को TMC ने कहा- ये वो चूहे हैं जो खतरा देखकर...

टीएमसी ने एक ट्वीट किया, 'तृणमूल का एक निलंबित विधायक कल भाजपा में शामिल हो गया. अन्य विधायक कांग्रेस और माकपा के हैं.पार्षदों की संख्या छह है. उनसे भी बंदूक का डर दिखाकर ऐसा करने को मजबूर किया गया.' 

तृणमूल कांग्रेस नेतृत्व ने मंगलवार को भाजपा पर खरीद-फरोख्त में शामिल होने का आरोप लगाया था जिसे भाजपा ने खारिज कर दिया था. भाजपा नेता मुकुल रॉय ने कहा कि आरोप पूरी तरह से बेबुनियाद है. अगर कोई भाजपा में शामिल होना चाहता है और टीएमसी के कुशासन के खिलाफ लड़ता है तो हम कैसे इसे रोक सकते हैं. टीएमसी नेता दल-बदल के बारे में बात करने वाले आखिरी लोग होने चाहिए. जब टीएमसी ने पिछले कुछ वर्षों में कांग्रेस और माकपा के नेताओं के साथ खरीद-फरोख्त की तब वह क्या था? क्या यह खरीद फरोख्त नहीं थी? 

टिप्पणियां

पश्चिम बंगाल में ममता सरकार को बड़ा झटका, TMC के 2 विधायक सहित 50 पार्षद BJP में शामिल

बता दें कि मंगलवार को कैलाश विजयवर्गीय ने कहा था कि जिस तरीके से पश्‍च‍िम बंगाल में सात चरणों में चुनाव हुए उसी तरीके से यहां सात चरणों में लोगों को पार्टी में शामिल करवाएंगे. उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में कहा था कि 40 विधायक हमारे संपर्क में हैं और कभी भी पार्टी में शामिल हो सकते हैं. कैलााश विजयवर्गीय ने कहा कि आज उसका पहला चरण है. उन्‍होंने कहा कि ममता जी की तानाशाही से तंग आकर सभी बीजेपी में शामिल हो रहे हैं. 3 विधायक और 29 पार्षदों के बीजेपी में शामिल होने के मौके पर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में मुकुल रॉय ने कहा कि हमलोग बंगाल में संघर्ष करेंगे. (इनपुट भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement