NDTV Khabar

जम्मू-कश्मीर : बदलाव बाद के मंत्रिमंडल में खींचातान, दो मंत्रियों ने दिया इस्तीफा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जम्मू-कश्मीर : बदलाव बाद के मंत्रिमंडल में खींचातान, दो मंत्रियों ने दिया इस्तीफा

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने अपने मंत्रिमंडल में पहली बार बदलाव किया है

खास बातें

  1. महबूबा ने अल्ताफ बुखारी को अपने मंत्रिमंडल में शामिल किया है
  2. राज्य मंत्रिमंडल में इस समय PDP के 13 तथा BJP के 11 सदस्य हैं
  3. मंत्रिमंडल में अभी भी PDP कोटे का एक पद खाली बनाया हुआ है
श्रीनगर:

जम्मू-कश्मीर सरकार के मंत्रिमंडल में फेरबदल के तुरंत बाद ही राजनीति भूचाल आ गया. इस फेरबदल में विभाग बदलने से नाराज दो मंत्रियों ने मुख्यमंत्री को इस्तीफा भेजकर अपना विरोध प्रकट किया.

बता दें कि शुक्रवार को मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने अपने मंत्रिमंडल का पहला विस्तार करते हुए कुछ मंत्रियों के कामकाज में बदलाव भी किए, लेकिन यह विस्तार शपथ ग्रहण और बदलाव के फौरन बाद विवादों में घिर गया. महबूबा ने  राजस्व, राहत, पुनर्वास एवं पुनर्निर्माण मंत्री सैयद बशारत बुखारी के काम में बदलाव करते हुए उन्हें बागबानी विभाग में भेज दिया. इससे नाराज होकर बशारत बुखारी ने मंत्रिमंडल से अपना इस्तीफा दे दिया. चर्चा यह भी है कि खेल मंत्री इमरान रजा अंसारी ने भी इस्तीफा दे दिया है.

बुखारी ने बताया कि उन्होंने मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को अपना त्यागपत्र भेज दिया है. मुख्यमंत्री को भेजे गए पत्र में उन्होंने अपने इस्तीफे की सभी वजहों को बताया है. पीडीपी के संस्थापकों में से एक हामिद कर्रा ने पहले ही श्रीनगर से लोकसभा की सदस्यता और पार्टी से पिछले साल इस्तीफा दे दिया था.


मंत्रिमंडल में सैयद अल्ताफ बुखारी को शिक्षा मंत्री के तौर पर शामिल किए जाने के बाद विभागों में मामूली फेरबदल करते हुए महबूबा ने सैयद बशारत बुखारी से राजस्व, राहत एवं पुनर्वास एवं आपदा प्रबंधन मंत्रालय की जिम्मेदारी छीनकर उन्हें बागवानी विभाग की जिम्मेदारी सौंपी. सैयद अल्ताफ बुखारी को शिक्षा मंत्रालय का कार्यभार सौंपा गया जबकि मौजूदा शिक्षा मंत्री नईम अख्तर को लोक निर्माण विभाग का कार्यभार सौंपा गया.

आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि अब्दुल रहमान वीरी जो पहले पीडब्ल्यूडी मंत्री थे, उन्हें राजस्व, आपदा प्रबंधन, राहत एवं पुनर्वास एवं पुनर्निर्माण और संसदीय कार्य मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

हालांकि इस फेरबदल में बीजेपी कोटे के मंत्रियों के कामों में कोई छेड़छाड़ नहीं की गई है. वर्तमान में महबूबा के मंत्रिमंडल की संख्या मुख्यमंत्री समेत 24 हो गई है. इसमें पीडीपी के 13 और बीजेपी के 11 सदस्य हैं. नियमानुसार मंत्रिमंडल में 25 सदस्य हो सकते हैं.

टिप्पणियां

प्रवक्ता ने बताया कि डॉ. हसीब द्राबू के पास वित्त, श्रम एवं रोजगार मंत्रालय का कार्यभार रहेगा, उन्हें संस्कृति मंत्रालय की जिम्मेदारी से मुक्त कर दिया गया है. प्रवक्ता ने बताया कि संस्कृति विभाग मुख्यमंत्री के पास ही रहेगा.
बता दें कि राजभवन में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में राज्यपाल एन. एन. वोहरा ने अल्ताफ बुखारी को शपथ दिलाई. पांच मिनट के संक्षिप्त समारोह में मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती, उप मुख्यमंत्री डॉ. निर्मल सिंह, विधानसभा अध्यक्ष कवींद्र गुप्ता, मंत्री, विधायक और एमएलसी समेत अनेक आला अफसर मौजूद रहे.

(इनपुट भाषा से भी)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... प्रियंका चोपड़ा ने नीले कोट-पैंट में भारत में मारी एंट्री, VIP नहीं रेगुलर गेट से आईं बाहर- देखें Video

Advertisement