NDTV Khabar

जम्मू कश्मीर में स्थिति सुधरी है क्योंकि हिंसा में बड़ी गिरावट आई है : जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती

तीन दिन पहले केंद्र सरकार ने इंटेलिजेन्स ब्यूरो के पूर्व निदेशक दिनेश्वर शर्मा को, राज्य में सभी पक्षों के साथ बातचीत करने के लिए विशेष प्रतिनिधि नियुक्त किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जम्मू कश्मीर में स्थिति सुधरी है क्योंकि हिंसा में बड़ी गिरावट आई है : जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती

जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती साथ में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा, जम्मू कश्मीर में स्थिति सुधरी है
  2. महबूबा ने बताया, ‘राशियां जारी की जा रही हैं और विकास के कई काम चल रहे है
  3. बैठक में जम्मू कश्मीर सरकार के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे
नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने गुरुवार को कहा कि राज्य में स्थिति में काफी सुधार हुआ है क्योंकि हिंसा में उल्लेखनीय कमी आई है. केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के साथ एक घंटे की मुलाकात के बाद महबूबा ने यह बात कही है. तीन दिन पहले केंद्र सरकार ने इंटेलिजेन्स ब्यूरो के पूर्व निदेशक दिनेश्वर शर्मा को, राज्य में सभी पक्षों के साथ बातचीत करने के लिए विशेष प्रतिनिधि नियुक्त किया है. महबूबा ने संवाददाताओं से कहा, ‘जम्मू कश्मीर में स्थिति सुधरी है क्योंकि हिंसा में बड़ी गिरावट आई है.’

मुख्यमंत्री ने बताया कि उन्होंने गृह मंत्री राजनाथ सिंह के साथ जम्मू कश्मीर के लिए विशेष प्रतिनिधि नियुक्त किए जाने की घोषणा, राज्य में सुरक्षा की स्थिति तथा विकास के विभिन्न मुद्दों के बारे में चर्चा की. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2015 में 80 हजार करोड़ रुपए के जिस पैकेज की घोषणा की थी, उसके बारे में भी गृह मंत्री के साथ विस्तार से चर्चा हुई है.

यह भी पढ़ें : महबूबा मुफ्ती से मुलाकात में राजनाथ सिंह ने पूछा, 6 हजार नौकरियां सेंक्शन की थीं, मिली सिर्फ 3 हजार को?

महबूबा ने बताया, ‘राशियां जारी की जा रही हैं और विकास के कई काम चल रहे हैं. राज्य में एम्स पर भी काम किया जा रहा है.’ गृह मंत्री और मुख्यमंत्री के अलावा इस बैठक में गृह मंत्रालय तथा जम्मू कश्मीर सरकार के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे.

VIDEO : क्या है अनुच्छेद 35-ए पर विवाद?


यह बैठक लगभग 45 मिनट तक चली. सिंह और महबूबा की बाद में 15 मिनट तक अकेले में भी बातचीत हुई. जम्मू कश्मीर में शांति लाने के प्रयास के तहत सोमवार को गृह मंत्री ने शर्मा को राज्य में सभी पक्षों से निरंतर वार्ता के लिए विशेष प्रतिनिधि नियुक्त करने का ऐलान किया था. मंगलवार को राजनाथ ने कहा कि कश्मीर मुद्दे के समाधान के लिए किससे बातचीत करनी है, यह शर्मा ही तय करेंगे.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement