NDTV Khabar

शहीद औरंगजेब के भाई ने कहा- सरकार आतंकियों को मारे, नहीं तो मैं खुद भाई की मौत का बदला लूंगा

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सेना के जवान शहीद औरंगजेब को शनिवार को पूरे राजकीय सम्मान के साथ सुपुर्द-ए-खाक किया गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शहीद औरंगजेब के भाई ने कहा- सरकार आतंकियों को मारे, नहीं तो मैं खुद भाई की मौत का बदला लूंगा

सेना के शहीद जवान औरंगजेब (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. शहीद औरंगजेब के भाई ने बदला लेने की बात कही.
  2. पीएम मोदी से भाई की मौत का बदला लेने की अपील की.
  3. आतंकियों ने औरंगजेब को अगवा कर मार डाला था.
नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सेना के जवान शहीद औरंगजेब को शनिवार को पूरे राजकीय सम्मान के साथ सुपुर्द-ए-खाक किया गया. इस मौके पर शहीद जवान औरंगजेब के छोटे भाई ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की कि जिनती जल्दी हो सके वे उनके भाई की मौत का बदला आतंकियों से लें. बता दें कि गुरुवार को आतंकवादियों द्वारा जवान औरंगजेब की अगवा कर हत्या कर दी गई, जिसका शव बाद में जंगल इलाके में छलनी अवस्था में मिला.  

औरंगजेब गुरुवार को उस वक्त आतंकवादियों द्वारा अगवा कर लिये गये थे, जब वह ईद की छुट्टियां मनाने अपने घर रजौरी जिला जा रहे थे. पुलिस की टीम को उनका शव पुलवामा में कलामपुरा से दस किलोमीटर की दूरी पर मिला. उनके शरीर पर कई गोलियों के निशान थे. उन्हें गर्दन और सिर में गिलियां मारी गई थी. 

भारतीय जवान औरंगजेब को मारने से पहले अहम जानकारी के फिराक में थे आतंकी

शहीद औरंगजेब के भाई ने समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा कि अगर सरकार आतंकवादियों से उनके भाई का बदला लेने में नाकामयाब रहती है, तो वह खुद अपने भाई की मौत का बदला लेगा. 

उसने कहा कि ' मैं प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी से अपील करता हूं कि इस मामले में तेजी से कार्रवाई करें. मेरे भाई की मौत की कीमत कम से कम 100 आतंकवादियों को मौत के घाट उतार कर ही चुकानी होगी. अगर आप (सरकार) ऐसा करने में सक्षम नहीं हैं, तो हमें बताएं. हम खुद दुश्मनों से अपनी भाई के मौत का बदला लेंगे.' 

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले से अगवा सेना के जवान का गोलियों से छलनी शव बरामद

शनिवार को ही औरंगजेब के पिता मोहम्मद हनीफ ने भी केंद्र और जम्मू-कश्मीर सरकार से भावुक गुहार लगाई और राज्य से आतंकवाद को जड़ से खत्म करने की अपील की. 

शुक्रवार को शहीद औरंगजेब का एक वीडियो शुक्रवार को सोशल मीडिया पर दिखा. ऐसा बताया जा रहा है कि आतंकियों ने औरंगजब की हत्या करने से पहले उसका एक वीडियो बनाया था, जिसमें उससे उस एनकाउंटर से जुड़ी जानकारी हासिल करने की कोशिश कर रहे थे, जिसका वह हिस्सा थे. बता दें कि औरंगजेब उस एनकाउंटर अभियान का हिस्सा थे, जिसमें आतंकी समीर टाइगर को मारा गया था और उस ऑपरेशन को अंजाम दिया था. औरंगजेब का जो वीडियो जारी किया गया है, वह 1.15 मिनट है. ऐसा माना जा रहा है कि जंगल इलाके में औरंगजेब की हत्या करने से पहले आतंकियों ने उससे पूछताछ की. आतंकी वीडियो में यह पूछने की कोशिश कर रहे हैं कि ऑपरेशन समीर टाइगर एनकाउंटर मिशन में उनका क्या रोल था. वीडियो में औरंगजबेद ब्लू जींस और टीशर्ट में दिखे. 

जम्मू-कश्मीर के शोपियां से छुट्टी पर गए सेना के जवान का अपहरण

टिप्पणियां
राजौरी जिला के निवासी औरंगजेब ईद के मौके पर छुट्टियों में घर जा रहे थे. इस दौरान पुलवामा जिले के कलामपुरा इलाके से उनका अपहरण कर लिया गया था. उनका शव गुरुवार की रात को उनके घर से दस किलोमीटर की दूरी पर मिला. उनके सिर और गर्दन पर गोलियों के निशान थे. औरंगजेब 4 जम्मू कश्मीर लाइट इनफैंट्री में थे और वर्तमान में वह शोपियां के शादीमार्ग में 44 राष्ट्रीय राइफल्स शिविर में तैनात थे. औरंगजेब इस अभियान में शामिल थे, जिसके तहत आतंकी समीर को मारा गया था. आंतकी समीर टाइगर ने मेजर रोहित शुक्ला को मारने की धमकी भी थी. 

VIDEO: राष्ट्रीय रायफ़ल्स के शहीद जवान औरंगज़ेब को दी गई अंतिम विदाई


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement