जम्मू-कश्मीर: अलग-अलग जगह आए बर्फीले तूफान की वजह से सेना के चार जवानों समेत नौ की मौत

राहत और बचाव अभियान में चार जवान को निकाल लिया गया है, लेकिन तीन जवानों को नहीं बचाया जा सका. एक लापता जवान के लिए राहत और बचाव अभियान जारी है.

जम्मू-कश्मीर: अलग-अलग जगह आए बर्फीले तूफान की वजह से सेना के चार जवानों समेत नौ की मौत

एक लापता जवान की खोज की जा रही है.

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा के माछिल सेक्टर में बर्फीले तूफान ने कहर बरपाया है. इस तूफान में सेना के चार जवानों की मौत हो गई, जबकि एक जवान अभी भी लापता है. वहीं एक जवान को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. यह तूफान सोमवार को दोपहर करीब एक बजे आया था. राहत और बचाव अभियान में चार जवान को निकाल लिया गया है, लेकिन किसी को नहीं बचाया जा सका. माछिल में सेना के तीन और नौगाम में बीएसएफ के एक जवान की मौत बर्फ़ीले तूफान से हो गई. खराब मौसम की वजह राहत कार्य में दिक्कतें आ रही हैं. बीते 48 घंटे में राज्य में 32 जगहों पर बर्फीला तूफान आ चुका है. उधर, सोनमर्ग के गंदरबंद इलाके में आए तूफान में दबने से पांच स्थानीय लोगों की मौत की भी खबर आ रही है.

बता दें, कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी के साथ उत्तर भारत में सोमवार को भी ठंड का प्रकोप जारी रहा. मैदानी इलाके में अधिकतर जगहों पर न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से कम रहा. कश्मीर में लगातार दूसरे दिन बर्फबारी जारी रहने से सोमवार को भी सामान्य जनजीवन प्रभावित रहा और श्रीनगर हवाई अड्डे पर सभी उड़ानों को रद्द कर दिया गया. राष्ट्रीय राजधानी में दिन की शुरूआत में आसमान साफ रहा लेकिन शाम में छिटपुट बारिश हुई. बर्फबारी जारी रहने से कश्मीर में सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ.

कश्मीर में बर्फबारी का असर: दिल्ली में बढ़ी ठंड, उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश की संभावना

मैदानी इलाकों में हल्की से मध्यम बर्फबारी हुई, वहीं घाटी में ऊंचाई वाले स्थानों पर भारी बर्फबारी हुई. भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण (एएआई) के एक अधिकारी ने बताया कि श्रीनगर से रवाना होने वाली और यहां पहुंचने वाली सभी उड़ानें खराब दृश्यता और रनवे पर बर्फ जमा होने के कारण रद्द कर दी गईं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पाकिस्तान ने फिर किया सीजफायर उल्लंघन, नियंत्रण रेखा से लगे पुंछ के गांवों को निशाना बनाया

अधिकारियों ने बताया कि सुबह बर्फबारी और बारिश के कारण शहर की अधिकतर सड़कों पर पानी जमा हो गया. बर्फबारी के कारण कई इलाकों में बिजली की आपूर्ति बाधित हुई है. हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले क्षेत्र में भी बर्फबारी हुई जबकि राज्य के अन्य हिस्सों में हल्की बारिश दर्ज की गयी. केलांग में 45 सेंटीमीटर, कल्पा में 15.2 सेमी बर्फबारी हुई. बारिश के कारण कुल्लू जिले में भूस्खलन से बनाला रोड को बंद करना पड़ा . राज्य में छह डिग्री के साथ केलांग सबसे सर्द स्थान रहा.