NDTV Khabar

जम्मू-कश्मीर में बढ़ी हिंसा के बीच अमरनाथ दर्शन के लिए सवा दो लाख लोगों ने कराया पंजीकरण

जम्मू-कश्मीर में बढ़ी हिंसा से अमरनाथ यात्रा को लेकर सुरक्षाबलों की नींद उड़ी हुई है. वजह है कि अगले महीने के 29 जून से अमरनाथ यात्रा शुरू होने वाली है.

119 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जम्मू-कश्मीर में बढ़ी हिंसा के बीच अमरनाथ दर्शन के लिए सवा दो लाख लोगों ने कराया पंजीकरण

अमरनाथ यात्रा

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर में बढ़ी हिंसा से अमरनाथ यात्रा को लेकर सुरक्षाबलों की नींद उड़ी हुई है. वजह है कि अगले महीने के 29 जून से अमरनाथ यात्रा शुरू होने वाली है. यात्रा को लेकर खुफिया इनपुट है कि सीमा पार से आतंकियों को संदेश मिले हैं कि वे यात्रा में रुकावट पैदा करें. इन सबके बावजूद अमरनाथ यात्रा के लिए एडवांस पंजीकरण करवाने वाले श्रद्धालुओं की तादाद में कोई कमी नहीं आई है. 1 मार्च से शुरू हुई पंजीकरण की प्रक्रिया में अब तक करीब 2 लाख 20 हजार श्रद्धालु यात्रा के लिए पंजीकरण करवा चुके हैं. ये यात्रा 7 अगस्त तक चलेगी.

पिछले साल जब आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने पर कश्मीर में हालात बिगड़ गए तब भी दो लाख बीस हजार श्रद्धालुओं ने शिवलिंग के दर्शन किए थे. इस बार तो इतने लोगों ने पहले ही दर्शन के लिए अपना पंजीकरण ही करवा लिया है. देशभर में तीन बैंकों की 433 शाखाओं से पंजीकरण हो रहा है. पंजाब नेशनल बैंक की 306, जेके बैंक की 87 और यस बैंक की 40 शाखाओं में पंजीकरण हो रहा है.

हालांकि अभी यात्रा शुरू होने में डेढ़ महीना बाकी है, लेकिन राज्य सरकार से लेकर केन्द्र सरकार की कोशिश हालात को पहले समान्य करने की है ताकि ज्यादा से ज्यादा श्रद्धालु आकर सुरक्षित दर्शन कर सकें. सुरक्षाबलों की कोशिश ऐसी सुरक्षा व्यवस्था करने की है ताकि किसी भी सूरते हाल में आतंकी उसे भेद ना सकें.   


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement