NDTV Khabar

जम्मू कश्मीर: DGP दिलबाग सिंह ने NDTV से कहा- हालात सुधरने तक नहीं देंगे विरोध प्रदर्शन की अनुमति

जम्मू कश्मीर पुलिस प्रमुख दिलबाग सिंह ने एनडीटीवी से खास बात की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जम्मू कश्मीर: DGP दिलबाग सिंह ने NDTV से कहा- हालात सुधरने तक नहीं देंगे विरोध प्रदर्शन की अनुमति

दिलबाग सिंह

खास बातें

  1. DGP दिलबाग सिंह ने NDTV से की खास बातचीत
  2. कहा- हालात सुधरने तक नहीं देंगे विरोध प्रदर्शन की अनुमति
  3. कहा- स्थिति को देखते हुए धरने की भी अनुमति नहीं
नई दिल्ली:

जम्मू कश्मीर पुलिस (Jammu Kashmir Police) प्रमुख दिलबाग सिंह ने एनडीटीवी से खास बात की. उन्होंने कहा, 'जब तक स्थिति बेहतर नहीं हो जाती तब तक किसी तरह के प्रदर्शन की अनुमति नहीं मिलेगी फिर चाहें वो धरना ही क्यों ना हो.' उन्होंने कहा कि कश्मीर घाटी में प्रतिबंधों को पूरी तरह से हटा दिया गया है. बता दें कि मंगलवार को जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम फारुक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) की बहन और बेटी समेत एक दर्जन से ज्यादा महिलाओं को श्रीनगर में धरना देने की वजह से गिरफ्तार कर लिया गया था. ये महिलाएं विशेष राज्य का दर्जा खत्म होने की वजह से प्रदर्शन कर रही थीं. इन महिलाओं में अधिकतर की उम्र 60 से 80 साल थी और उन्हें पर्सनल बॉन्ड भरने के बाद गुरुवार को रिहा कर दिया गया.

जम्मू कश्मीर के शोपियां में पंजाब के सेब व्यापारी की आतंकियों ने गोली मारकर हत्या की  


दिलबाग सिंह (Dilbagh Singh) ने एनडीटीवी से कहा, 'इस तरह के किसी भी प्रदर्शन को मंजूरी देने से पहले हमारा प्रयास पहले शांति कायम करना है.' उन्होंने कहा कि कुछ महिलाओं के हाथ में जो पोस्टर थे, वह बहुत अच्छे नहीं थे और वे निश्चित रूप से कानून और व्यवस्था के हित में नहीं थे. इसके बाद ही प्रभावी कार्रवाई की गई.'

जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया उनमें डॉ अब्दुल्ला की बहन सुरैया अब्दुल्ला, उनकी बेटी साफिया अब्दु्ल्ला खान और हवा बसीर, चीफ जस्टिस बशीर अहमद खान की पत्नी थीं.  

ये महिलाएं पोस्टर लेकर श्रीनगर के लाल चौक के पास प्रताप पार्क में इकट्ठा हुए थे. इन्होंने जब प्रदर्शन शुरू किया तो पुलिस ने उन्हें कस्टडी में ले लिया. उन्हें पास के पुलिस स्टेशन में ले जाया गया और फिर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. 

कश्मीर के अनंतनाग में लश्कर और हिजबुल के तीन आतंकी मारे गए, हथियार बरामद

दिलबाग सिंह ने कहा, 'भड़काऊ चीजें केवल कहे गए शब्दों से नहीं फैलतीं बल्कि भड़काऊ चीजें पोस्टर से भी फैलती हैं.'  सिंह ने कहा, 'जिन प्रतिबंधों को श्रीनगर में लगाया गया था उनका सम्मान करना चाहिए था. महिला प्रदर्शनकारियों को सलाह दी गई थी कि वे डिप्टी कमीशन के पास जाएं और अनुमति मांगें.'

टिप्पणियां

पुलिस प्रमुख ने यह भी कहा, 'किसी भी तरह के प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी. जब हालात सुधरेंगे तो हम इस बारे में सोचेंगे. लेकिन अभी बिल्कुल भी नहीं.'

Video: मोबाइल पोस्टपेड सेवा शुरू करने के कुछ घंटों बाद एसएमएस सेवा को किया बंद



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement