NDTV Khabar

महाराष्ट्र में बोले नामग्याल: संसाधनों का दुरुपयोग करने वालों का लद्दाख में स्वागत नहीं

महाराष्ट्र में एक कार्यक्रम में जाम्यांग त्सेरिंग नामग्याल ने कहा कि जो लोग लद्दाख के संसाधनों को स्वार्थ के लिए इस्तेमाल करना चाहते हैं उनका क्षेत्र में स्वागत नहीं है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महाराष्ट्र में बोले नामग्याल: संसाधनों का दुरुपयोग करने वालों का लद्दाख में स्वागत नहीं

लद्दाख से बीजेपी सांसद जाम्यांग त्सेरिंग नामग्याल

खास बातें

  1. लद्दाख से लोकसभा सदस्य हैं जाम्यांग त्सेरिंग नामग्याल
  2. कई लोग उनके क्षेत्र में आकर कारोबारी संभावनाओं का लाभ उठाना चाहते हैं
  3. जो लोग कारोबारी संभावनाओं के लिए आना चाहते हैं उनका स्वागत है.
पुणे:

लद्दाख से लोकसभा सदस्य जाम्यांग त्सेरिंग नामग्याल ने कहा कि कई लोग उनके क्षेत्र में आकर कारोबारी संभावनाओं का लाभ उठाना चाहते हैं, लेकिन क्षेत्र में सिर्फ उन लोगों का स्वागत है जो वास्तव में संसाधानों का लाभ उठाना चाहते हैं और उसका दुरुपयोग नहीं करेंगे. महाराष्ट्र में एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि जो लोग लद्दाख के संसाधनों को स्वार्थ के लिए इस्तेमाल करना चाहते हैं उनका क्षेत्र में स्वागत नहीं है.

लोकसभा में अपने भाषण से चर्चा में आए लद्दाख के सांसद ने अरुण जेटली के निधन पर जताया दुख, दिया यह बयान

कार्यक्रम के दौरान नामग्याल ने कहा, ‘अनुच्छेद-370 और 35ए हटाने के बाद कई लोग कारोबारी संभावनाओं को तलाशने के लिए लद्दाख आना चाहते हैं. इसमें दो तरह के लोग हैं. कुछ लोग क्षेत्र की संभावनाओं का इस्तेमाल करना चाहते हैं जबकि कुछ स्वार्थी उद्देश्य से संसाधनों का दोहन करना चाहते हैं, जो लोग कारोबारी संभावनाओं के लिए आना चाहते हैं उनका स्वागत है.'


लद्दाख से BJP सांसद नामग्याल बोले, चीन के खिलाफ पूर्व पीएम नेहरू की 'फॉरवर्ड पॉलिसी' बाद में 'बैकवर्ड पॉलिसी' बन गई

टिप्पणियां

नामग्याल ने जम्मू-कश्मीर पर केंद्र की ओर से लिए गए फैसले का संसद में पुरजोर तरीके से समर्थन किया था और युवाओं से राष्ट्रनिर्माण में हिस्सा लेने की अपील की थी. उन्होंने कहा, ‘कुछ लोग जो खुद असुरक्षित महसूस करते हैं ने पूर्वाग्रह बना लिया है कि राजनीति गंदा खेल है जो सच नहीं है.' बता दें कि पांच अगस्त को केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद-370 के अधिकतर प्रावधानों को समाप्त कर दिया था और राज्य को दो केंद्रीय शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर एवं लद्दाख में बांटने का फैसला किया था.

Video: संसद में लद्दाख के BJP सांसद का जोरदार भाषण



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement