NDTV Khabar

दिल्ली जा रहे आंदोलनकारी जाटों के साथ पुलिस की झड़प, 4 पुलिसकर्मी घायल

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली जा रहे आंदोलनकारी जाटों के साथ पुलिस की झड़प, 4 पुलिसकर्मी घायल

दिल्ली कूच कर रहे जाटों और पुलिस के बीच झड़प हो गई (फाइल फोटो)

चंडीगढ़: आरक्षण की मांग को लेकर हरियाणा के जाटों का दिल्ली कूच भले ही टल गया हो, लेकिन सुबह कूच की तैयारी कर रहे कुछ आंदोलनकारियों की पुलिस के साथ झड़प हो गई. इस झड़प में आंदोलनकारियों ने पुलिसबल पर पथराव भी किया. भीड़ को तीतर-बितर करने के लिए पुलिस को बल का प्रयोग करना पड़ा. इस घटनाक्रम में 4 पुलिसकर्मी घायल हो गए. यह झड़प सिरसा-हिसार-दिल्ली राजमार्ग पर हुई.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, हरियाणा के फतेहाबाद जिले में रविवार को आरक्षण की मांग को लेकर कुछ जाट आंदोलनकारी ट्रैक्टर-ट्रॉलियों में सवार होकर दिल्ली जाने के लिए निकले. पुलिस ने इन्हें दिल्ली जाने से रोका. इस दौरान आंदोलनकारियों और पुलिस के बीच कहासुनी होने लगी. देखते-देखते विवाद इतना भड़क गया कि कहासुनी ने उग्र रूप ले लिया.

प्रदर्शनकारियों ने पुलिसबल पर पथराव किया तो पुलिसबल ने लाठीचार्ज किया और आंसूगैस के गोले छोड़े. एक पुलिस उपाधीक्षक सहित चार पुलिस अधिकारी घायल हो गए. पुलिस का कहना है कि झड़प के दौरान प्रदर्शनकारियों ने दो बसों को भी नुकसान पहुंचाया है.

बात दें कि लंबे समय से आरक्षण की मांग कर रहे जाट समुदाय ने सोमवार को दिल्ली में प्रदर्शन करने का और संसद का घेराव करने ऐलान किया था. हालात पर काबू रखने के लिए हरियाणा में प्रशासन ने दिल्ली के सीमावर्ती जिलों में ट्रैक्टर-ट्रालियों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया था, ताकि जाट प्रदर्शनकारियों को दिल्ली में होने वाले प्रदर्शन में शामिल होने से रोका जा सके.

हालांकि इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कुछ जाट नेताओं के साथ मुलाकात भी की. बैठक के बाद प्रदर्शन को 15 दिनों के लिए टालने का फैसला लिया गया. इस बैठक में खट्टर के अलावा, केंद्रीय कैबिनेट मंत्री बिरेंद्र सिंह भी मौजूद थे.

(इनपुट आईएएनएस से भी)

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement