NDTV Khabar

तेजस्वी खुद को बेदाग साबित करें, नीतीश की छवि बिगड़ी तो गठबंधन का कोई अर्थ नहीं : जेडीयू

केसी त्‍यागी ने कहा कि तेजस्‍वी यादव को अपने आप को पाक साफ साबित करना चाहिए. अपने खिलाफ लगे आरोपों (सीबीआई केस) से उनको बेदाग निकलकर आना चाहिए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तेजस्वी खुद को बेदाग साबित करें, नीतीश की छवि बिगड़ी तो गठबंधन का कोई अर्थ नहीं : जेडीयू

केसी त्‍यागी (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. जदयू ने राजद नेता को दिया अल्‍टीमेटम
  2. शनिवार शाम तक तेजस्‍वी को दिया गया समय
  3. नीतीश कुमार ने तेजस्‍वी से खुद को बेदाग साबित करने को कहा
नई दिल्ली: बिहार में लालू प्रसाद के ठिकानों पर छापेमारी और उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव के खिलाफ सीबीआई केस दर्ज होने के बाद सत्‍तारूढ़ महागठबंधन के बीच जारी गतिरोध पर बोलते हुए जदयू के महासचिव केसी त्‍यागी ने कहा है कि इस वक्‍त बिहार में गठबंधन की अग्नि परीक्षा का वक्‍त है. तेजस्‍वी को अपने आप को पाक साफ साबित  करना चाहिए. अपने खिलाफ लगे आरोपों (सीबीआई केस) से उनको बेदाग निकलकर आना चाहिए. उन्‍होंने कहा है कि इस मामले में उनकी धारणा अलग है और हमारी राय भिन्‍न है. उन्‍होंने यह भी कहा कि नीतीश कुमार की छवि सुशासन की है. अगर उस पर छवि खरोंच या दाग लगता है तो फिर ना तो गठबंधन चलाने का कोई औचित्‍य रहेगा और ना ही बिहार में सरकार के प्रति कोई सम्‍मान रहेगा.

उल्‍लेखनीय है कि बिहार के मुख्यमंत्रीनीतीश कुमार ने तेजस्‍वी यादव को खुद को पाक साफ साबित करने के लिए अल्‍टीमेटम दिया है. मंगलवार को अपनी चुप्पी तोड़ते हुए साफ किया कि वे सहयोगी लालू यादव और उनके बेटे तेजस्वी यादव से क्या चाहते हैं. तेजस्वी यादव बिहार सरकार में नंबर दो की हैसियत रखते हैं.

वीडियो


टिप्पणियां
पार्टी नेताओं की बैठक के बाद जेडीयू पार्टी के प्रवक्ता नीरज कुमार ने सीएम नीतीश कुमार की मंशा को सामने रखते हुए कहा, "जो लोग भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे हैं, उन्हें जनता का सामना करना चाहिए और अपने आपको बेदाग साबित करना चाहिए. हमें भरोसा है कि वे ऐसा करेंगे."

जदयू के अल्‍टीमेटम के बाद पहली बार अपनी चुप्‍पी तोड़ते हुए राजद नेता और उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव ने बुधवार को कहा है कि मुझ पर एफआईआर राजनीतिक साजिश है. ये महागठबंधन को तोड़ने की कोशिश है. मुझे पिछड़ा होने की सजा दी जा रही है. लालू यादव के परिवार पर छापेमारी के बाद पहली राज्‍य सरकार की पहली कैबिनेट बैठक में हिस्‍सा लेने पहुंचे तेजस्‍वी यादव ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि ये 28 साल के नौजवान से डरते हैं और सवालिया लहजे में पूछा कि जिन आरोपों की बात विपक्ष कह रहा है तब उनकी उम्र 13-14 साल की थी. ऐसे में क्‍या 13-14 साल की उम्र में घोटाला करेंगे. उन्‍होंने कहा कि उनकी पार्टी इस मुद्दे पर नहीं झुकेगी और जरूरत पड़ने पर जनता के बीच जाएंगे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement