NDTV Khabar

दिल्ली विधानसभा चुनाव में जदयू भाजपा के साथ तालमेल की कोशिश में लगी

जदयू के राष्ट्रीय महासचिव और दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी प्रभारी संजय कुमार झा ने कहा, 'मैं भाजपा नेतृत्व के साथ बातचीत कर रहा हूं.एक बार चीजों को अंतिम रूप देने के बाद हम सीट-बंटवारे जैसे विवरण साझा करने की स्थिति में होंगे.’

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली विधानसभा चुनाव में जदयू भाजपा के साथ तालमेल की कोशिश में लगी

जदयू प्रमुख और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. जदयू दिल्ली में आगामी चुनाव में भाजपा के साथ गठजोड़ करने की कोशिश में लगी
  2. संजय झा ने कहा- मैं भाजपा नेतृत्व के साथ बातचीत कर रहा हूं
  3. संजय झा ने प्रदेश की प्रमुख विपक्षी पार्टी राजद पर निशाना साधा
पटना:

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता वाली जदयू दिल्ली में आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा के साथ गठजोड़ करने की कोशिश में लगी है. जदयू के राष्ट्रीय महासचिव और दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी प्रभारी संजय कुमार झा ने मकर संक्रांति के अवसर पर आयोजित एक समारोह में पत्रकारों से कहा, 'मैं भाजपा नेतृत्व के साथ बातचीत कर रहा हूं.एक बार चीजों को अंतिम रूप देने के बाद हम सीट-बंटवारे जैसे विवरण साझा करने की स्थिति में होंगे.'

मुख्यमंत्री नीतीश के विश्वासपात्र माने जाने वाले जल संसाधन मंत्री संजय झा ने प्रदेश की प्रमुख विपक्षी पार्टी राजद पर निशाना साधते हुए कहा कि राजद को दिल्ली में रोजगार कर रहे बिहारवासियों को बताना चाहिए कि बिहार में अपने शासनकाल के दौरान राज्य के लाखों लोगों को रोजगार के लिए पलायन करने के लिए क्यों मजबूर होना पड़ा था. इस बीच कांग्रेस के बिहार प्रभारी शक्तिसिंह गोहिल ने बुधवार को कहा, 'राजद के साथ हमारे गठबंधन में कोई समस्या नहीं है पर भाजपा और जदयू के बीच गंभीर समस्याएं हैं.' 

टिप्पणियां

दिल्ली में अरविंद केजरीवाल का नहीं, मेरा चेहरा है ब्रांड: मनोज तिवारी


उन्होंने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कहते हैं कि बिहार विधानसभा चुनाव नीतीश कुमार के नेतृत्व में लड़ा जाएगा, लेकिन यह कहने से परहेज करते है कि राजग की जीत की स्थिति में जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुख्यमंत्री होंगे. उन्होंने कहा, 'आपको महाराष्ट्र और हरियाणा जैसे राज्यों में अपने पूर्व सहयोगियों के साथ भाजपा के ‘ट्रैक रिकॉर्ड' को देखना होगा. यह एक ऐसा दल है, जो अपने ही पुराने नेताओं को मार्गदर्शक मंडल नामक राजनीतिक वृद्धाश्रमों में भेज देते हैं जिनसे कोई मार्गदर्शन नहीं लेने जाता.'
 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... राजगढ़ के थप्पड़ कांड को लेकर हाई कोर्ट ने राज्य सरकार और कलेक्टर से जवाब मांगा

Advertisement