NDTV Khabar

शरद यादव के अंधेरे में चलाए तीर बिना 'लालटेन' के नहीं चल रहे : जेडीयू का जवाब

केसी त्यागी ने कहा कि शरद यादव ने लालू यादव के भ्रष्टाचार पर कभी कोई टिप्पणी नहीं की. उन्होंने एक बार भी लालू के बेटे के बारे में हो रही जांच पर कुछ नहीं कहा.

478 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
शरद यादव के अंधेरे में चलाए तीर बिना 'लालटेन' के नहीं चल रहे : जेडीयू का जवाब

केसी त्यागी ने दिया शरद यादव को जवाब

नई दिल्ली: बिहार में महागठबंधन टूटने और फिर बीजेपी के साथ सरकार बनाने के नीतीश कुमार के फैसले से खफा शरद यादव आज से बिहार दौरे पर हैं. वह अगले तीन दिनों तक वह सात जिलों में घूम-घूमकर लोगों से संवाद करेंगे. इसकी शुरुआत करते हुए आज शरद यादव ने कहा कि हमने 5 साल के लिए गठबंधन किया था. 11 करोड़ लोगों का विश्वास टूटा है. मैं इस यात्रा में लोगों से बात करूंगा. इस बारे में जेडीयू के प्रवक्ता केसी त्यागी ने एनडीटीवी से बात की है. उन्होंने कहा कि जो रास्ता शरद यादव ने अख्तियार किया है वह सीधा आरजेडी तक जाता है. जो तीर शरद यादव ने चलाए हैं वो अंधेरे में चलाए हैं और अंधेरे के तीर बिना लालटेन के नहीं चलते.

पढ़ें: शरद यादव को छोड़नी पड़ सकती है राज्यसभा की कुर्सी, ये हैं कार्रवाई के 6 सबसे बड़े कारण

लालू यादव पर नहीं किया सवाल
उन्होंने सवाल किया की शरद यादव ने लालू यादव के भ्रष्टाचार पर कभी कोई टिप्पणी नहीं की. उन्होंने एक बार भी लालू के बेटे के बारे में हो रही जांच पर कुछ नहीं कहा. वे तो लगातार नीतीश कुमार के फैसले पर सवाल  उठा रहे हैं. अगर शरद यादव लक्ष्मण रेखा पार करते हैं तो वो दुर्भाग्यपूर्ण होगा.

शरद यादव पर हो सकती है कार्रवाई
शरद यादव के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई भी संभव है. सूत्रों के मुताबिक- उन्हें पार्टी से निलंबित किया जा सकता है. राज्यसभा में पार्टी के नेता पद से हटाया जा सकता है. पार्टी व्हिप का उल्लंघन करने पर उनकी राज्यसभा की सदस्यता भी जा सकती है. दरअसल, जेडीयू में राज्यसभा में नया नेता चुनने पर विचार किया जा रहा है. राज्यसभा में पार्टी के 10 सांसद हैं. वहीं NDTV से बातचीत में शरद यादव ने कहा कि महागठबंधन जनता के साथ एक बड़ा करार था और इसके टूटने से जनता का विश्वास टूटा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement