NDTV Khabar

बीजेपी जेडीयू के बीच रिश्तों की खटास पर बोले केसी त्यागी, शपथ के दिन भी अमित शाह ने किया था फोन

बिहार में बीजेपी और जेडीयू गठबंधन को लेकर सियासी सुगबुगाहट पर जेडीयू की तरफ से एक बार फिर से प्रतिक्रिया आई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीजेपी जेडीयू के बीच रिश्तों की खटास पर बोले केसी त्यागी, शपथ के दिन भी अमित शाह ने किया था फोन

के सी त्यागी ने बीजेपी-जेडीयू खीचतान पर पेश की सफाई

पटना:

बिहार में बीजेपी और जेडीयू गठबंधन को लेकर सियासी सुगबुगाहट पर जेडीयू की तरफ से एक बार फिर से प्रतिक्रिया आई है. जेडीयू के प्रवक्ता केसी त्यागी से सारी अटकलों पर विराम लगाते हुए साफ साफ कहा कि केंद्र की सरकार को हमारा बाहर से समर्थन है और आगे भी ये जारी रहेगा. उन्होंने कहा कि अमित शाह ने नीतीश कुमार से कहा था कि हमारे पास बहुमत है लेकिन हम चाहते हैं कि मोदी सरकार में एनडीए के सभी घटक दलों को मौका दिया जाए. उन्होंने कहा कि हमारी तरफ से न तो किसी नाम को भेजा गया था और न ही किसी नाम पर चर्चा की गई थी लेकिन कई जगहों ऐसी चर्चाएं की जा रहीं थी कि जेडीयू की तरफ से नाम भेजे गए थे. जेडीयू प्रवक्ता ने कहा कि ये साफी अफवाहें गलत हैं. बताते चलें कि इससे पहले नीतीश कुमार ने भी बीजेपी जेडीयू के बीच तनाव पर अपनी सफाई पेश की थी. प्रेस कांफ्रेंस में केसी त्यागी ने बताया कि आम चुनावों में नीतीश कुमार ने नरेंद्र मोदी के लिए 171 सभाएं की थी और गठबंधन के घटक दल होने के नाते ही सिर्फ ऐसा किया गया था.  

BJP-JDU की आपसी खींचतान को लेकर नीतीश कुमार ने तोड़ी चुप्पी, कहा- हम तो हमेशा से ही साथ...

केसी त्यागी ने बताया कि बिहार में भी ऐसा ही फार्मूला अपनाया गया है. हमने विधायकों की संख्या के हिसाब से सबका ख्याल रखा है. केसी त्यागी के मुताबिक शपथ ग्रहण समारोह के दिन भी अमित शाह जी ने फोन किया था और शामिल होने के लिए कहा था. इससे पहले शनिवार को नीतीश कुमार ने भी खीचतान पर साफ किया था कि हम पहले भी साथ और आगे भी साथ रहेंगे. चाहे मंत्री बनें या न बनें. उन्होंने कहा कि बीजेपी और जेडीयू के रिश्तों को लेकर सवाल खड़ा करना गलत है. नीतीश कुमार ने बताया था कि सांकेतिक प्रतिनिधित्व के आधार पर एक मंत्री को शामिल किए जाने का ऑफर था लेकिन इसकी कोई जरूरत नहीं थी. सरकार चलाने का आदेश उन्हें जनता ने दिया है तो इसमें सहयोगी दलों की कोई जरूरत नहीं है. 


श्रीलंका: पीएम मोदी ने आतंकी हमलों में मारे गए लोगों को दी श्रद्धांजलि, राष्ट्रपति भवन में लगाया अशोक का पौधा

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले नीतीश कुमार ने जब केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के बयान पर टिप्पणी करते हुए कहा था कि वह सुर्खियों के लिए कुछ भी बोल देते हैं. इसके बाद यह कयास लगाए जाने लगे थे कि बीजेपी-जेडीयू के बीच दिन पर दिन संबंध खराब होने लगे हैं. उस उन्होंने (Nitish Kumar) कहा था कि ऐसे लोग जो गैर-जरूरी टिप्पणी करने वाले लोगों का कोई धर्म नहीं होता है. गिरिराज सिंह के बयान के बाद बीजेपी अध्यक्ष और देश के गृहमंत्री अमित शाह ने कड़ी प्रतिक्रिया दी थी. उन्होंने गिरिराज सिंह को इस तरह के बयान दोबारा न देने की हिदायत भी दी थी. 

टिप्पणियां

Video: बिहार में गठबंधन रहेगा, मंत्री बनें या नहीं- नीतीश कुमार



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement