शरद यादव के लालू की रैली में जाने से भन्नाई जेडीयू, राज्यसभा सदस्यता के अयोग्य करार देने की करेगी मांग

पार्टी का मानना हैं कि राजद की रैली में भाग लेके शरद यादव ने ख़ुद से पार्टी की सदस्यता का त्याग कर दिया है.

शरद यादव के लालू की रैली में जाने से भन्नाई जेडीयू, राज्यसभा सदस्यता के अयोग्य करार देने की करेगी मांग

लालू प्रसाद यादव की रैली में भाषण देते शरद यादव

खास बातें

  • आरजेडी की रैली में पहुंचे थे शरद यादव
  • जेडीयू लिखेगी राज्यसभा स्पीकर को पत्र
  • सदस्यता अयोग्य करार देने की करेगी मांग
नई दिल्ली:

जनता दल यूनाइटेड अपने संस्थापक और पूर्व अध्यक्ष शरद यादव को निलम्बित किए बिना सीधे उनकी सदस्यता रद्द कराने के लिए राज्यसभा अध्यक्ष को पत्र लिखेग लिखेगी. पार्टी का मानना हैं कि राजद की रैली में भाग लेके शरद यादव ने ख़ुद से पार्टी की सदस्यता का त्याग कर दिया है. पार्टी के महासचिव के सी त्यागी का कहना हैं कि पार्टी की ओर से बार-बार मना करने के बावजूद शरद यादव ने राजद की रैली में भाग लिया उससे ये बात साबित हो गई है कि उन्होंने पार्टी की सदस्यता का त्याग कर दिया है. त्यागी का दावा है कि उनके के भाषण और हाल के दिनों में राजनीतिक गतिविधि से साफ है की वो पार्टी विरोधी कामों में लगे हैं.  इसलिए पार्टी को उम्मीद हैं कि संविधान की १० वी अनुसूची जिसमें सदन के बाहर की गतिविधि पर भी सदस्यता रद्द होने का प्रावधान है, इसी के तहत अगले कुछ दिनो में पार्टी राज्यसभा के सभापति के पास याचिका दायर करेगी. पूर्व में भाजपा के राज्यसभा सांसद जय नारायण निषाद और जनता दल यूनाइटेड के उपेन्द्र कुशवाह की सदस्यता भी इसी आधार पर जा चुकी है. 

पढ़ें : हम लोग संघर्ष करते रहेंगे, अब पूरे देश में बनेगा महागठबंधन: लालू की रैली में बोले शरद यादव

आपको बता दें कि केसी त्यागी ने पिछले दिनों शरद को एक पत्र लिखकर चेताया था कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की ओर से आयोजित रैली में उनकी शिरकत का मतलब यह होगा कि उन्होंने पार्टी के सिद्धांतों के खिलाफ काम किया है और स्वेच्छा से सदस्यता छोड़ रहे हैं. वहीं, नीतीश के करीबियों का कहना है कि अच्छा है कि शरद यादव, लालू के साथ मिल गए हैं. उनका मानना है कि लालू कुनबे के दबाव के बीच शरद यादव को अपमान का घूंट पीकर ही रहना पड़ेगा.

वीडियो :  लालू की रैली में खूब बरसे शरद
गौरतलब है कि लालू प्रसाद यादव की ओर 'भाजपा भगाओ, देश बचाओ' रैली का आयोजन किया गया था. जिसमें बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव, झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन, कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद सहित कई नेता शामिल थे. इस रैली में शरद यादव ने बीजेपी और नीतीश कुमार के खिलाफ जमकर निशाना साधा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com