झारखंड के गढ़वा में हुई रैली में बोले अमित शाह- मैं भी बनिया हूं... 20 से 25 हजार की भीड़ से चुनाव नहीं जीते जाते

झारखंड के गढ़वा में बीजेपी के कार्यकर्ताओं को गृहमंत्री और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की नाराजगी का सामना करना पड़ा है. दरअसल अमित शाह वहां एक चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे लेकिन बताया जा रहा है.

झारखंड के गढ़वा में हुई रैली में बोले अमित शाह- मैं भी बनिया हूं... 20 से 25 हजार की भीड़ से चुनाव नहीं जीते जाते

झारखंड के गढ़वा में अमित शाह ने रैली को संबोधित किया

खास बातें

  • गढ़वा में थी अमित शाह की रैली
  • पहले चरण का चुनाव प्रचार गुरुवार को खत्म
  • 30 नवंबर को है पहले चरण का चुनाव
रांची:

झारखंड के गढ़वा में बीजेपी के कार्यकर्ताओं को गृहमंत्री और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की नाराजगी का सामना करना पड़ा है. दरअसल अमित शाह वहां एक चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे लेकिन बताया जा रहा है. भीड़ वैसी नहीं थी जैसा कि आम तौर पर अमित शाह की रैलियों में देखी जाती है. भीड़ कम देखकर अमित शाह ने कहा, 'मैं भी बनिया हूं जानता हूं सभा में आई 20 से 25 हजार की भीड़ से चुनाव नहीं जीते जाते हैं बल्कि मोबाइल के माध्यम से इस संदेश और वीडियो को 50-50 रिश्तेदारों के भेजें'. उनके इस बयान पर स्थानीय लोगों काफी चर्चा हो रही है. वहीं झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता हेमंत सोरेन ने अमित शाह के इस बयान पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा, ' शासन-प्रशासन का दुरुपयोग कर भीड़ जुटाओ-झूठ फैलाओं कार्यक्रम के आदी भाजपा वालों की नींद उड़ी हुई है. 5 साल इन्होंने जमकर ठगा सखी मंडल की मेरी बहनों और झारखंडी जनता को. मगर अब कोई बहकावे में नहीं आने वाला. अब जनता चुनेंगी एक सच्ची सरकार, झारखंडी सरकार.'

dk3nm1c8
Newsbeep

आपको बता दें कि झारखंड विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए गुरुवार की शाम पांच बजे चुनाव प्रचार थम गया है.  इस चरण में तेरह सीटों के लिए कुल 3783055 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग 30 नवंबर को करेंगे. झारखंड के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय चौबे ने बताया कि प्रथम चरण में 30 नवंबर को सुबह सात बजे से ही मतदान प्रारंभ हो जायेगा और इस चरण की सभी तेरह सीटें नक्सल प्रभावित इलाकों में होने के कारण वहां मतदान अपराह्र तीन बजे तक ही होगा. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने बताया कि अपराह्र तीन बजे तक जितने भी मतदाता मतदान केन्द्र पर पहुंच जायेंगे उन्हें मतदान की अनुमति होगी. प्रथम चरण में कुल 3783055 मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग कर सकेंगे. नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में स्थित प्रथम चरण की तेरह सीटों के लिए कुल 189 उम्मीदवार चुनाव मैदान में रह गये हैं. इस चरण के लिए कुल 3906 मतदान केन्द्र बनाये गये हैं. इस चरण में कुल 989 मतदान केन्द्रों से वेबकास्टिंग की जायेगी.  उन्होंने बताया कि प्रथम चरण में 30 नवंबर को 27-चतरा (अनुसूचित जाति, एससी के लिए सुरक्षित), 68-गुमला (अनुसूचित जनजाति के लिए सुरक्षित, एसटी), 69-बिशुनपुर (एसटी), 72-लोहरदगा (एसटी), 73-मनिका (एसटी), 74-लातेहार (एससी), 75-पांकी, 76-डाल्टेनगंज, 77-विश्रामपुर, 78-छत्तरपुर (एससी), 79- हुसैनाबाद, 80- गढ़वा और 81-भवनाथपुर सीट के लिए सुबह सात बजे से मतदान होगा. (इनपुट : भाषा से भी)