NDTV Khabar

झारखंड चुनाव : हेमंत सोरेन होंगे महागठबंधन के सीएम पद का चेहरा, सीटों का बंटवारा हुआ

झारखंड के महागठबंधन में झारखंड मुक्ति मोर्चा 43, कांग्रेस 31 और राष्ट्रीय जनता दल 7 सीटों पर चुनाव लड़ेगा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
झारखंड चुनाव : हेमंत सोरेन होंगे महागठबंधन के सीएम पद का चेहरा, सीटों का बंटवारा हुआ

हेमंत सोरेन और आरपीएन सिंह ने महागठबंधन में सीटों के बंटवारे की जानकारी प्रेस को दी.

खास बातें

  1. कांग्रेस महासचिव और झारखंड के प्रभारी आरपीएन सिंह ने की घोषणा
  2. बाबूलाल मरांडी का झारखंड विकास मोर्चा महागठबंधन में नहीं
  3. सिंह, सोरेन और तेजस्वी ने सीटों के समझौते को अंतिम रूप दिया
रांची:

झारखंड में हेमंत सोरेन महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद का चेहरा होंगे. महागठबंधन उनके नेतृत्व में ही चुनाव लड़ेगा. यह घोषणा कांग्रेस के महासचिव और झारखंड के प्रभारी आरपीएन सिंह ने आज एक संवाददाता सम्मेलन में की. महागठबंधन के तीनों दलों झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल के बीच सीटों का बंटवारा हो गया है. झारखंड के महागठबंधन में झारखंड मुक्ति मोर्चा 43, कांग्रेस  31 और राष्ट्रीय जनता दल 7 सीटों पर चुनाव लड़ेगा. राष्ट्रीय जनता दल को देवघर, गोड्डा, कोडरमा, चतरा, बरकटा, छतरपुर और हुसैनाबाद सीटें मिली हैं.

झारखंड में महागठबंधन में सीटों के बंटवारे पर सहमति हो गई है. महागठबंधन में झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल शामिल हैं. बाबूलाल मरांडी का झारखंड विकास मोर्चा इसका हिस्सा नहीं है. झारखंड मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने पहले ही घोषणा की थी कि उनकी पार्टी कम से कम 42 या 43 सीटों पर लड़ेगी. राज्य में बहुमत का आंकड़ा 41 है. कांग्रेस को 31 सीटें और राष्ट्रीय जनता दल के खाते में 7 सीटें आई हैं.


झारखंड में आज महगठबंधन के घटक दलों के बीच सीटों की संख्या पर समझौता हो गया. इसकी विधिवत घोषणा के साथ ये घोषणा भी की गई कि हेमंत सोरेन मुख्यमंत्री पद का चेहरा होंगे. इस घोषणा के साथ साफ़ हो गया कि इस बार के चुनाव में मुक़ाबला मुख्यमंत्री रघुबर दास बनाम हेमंत सोरेन होगा.

झारखंड विधानसभा चुनाव : बीजेपी उम्मीदवारों के नाम 9 नवंबर को तय किए जाएंगे

सीटों पर समझौते की घोषणा रांची में एक संयुक्त संवादाता सम्मेलन में कांग्रेस के महासचिव आरपीएन सिंह और हेमंत सोरेन ने की. हालांकि इस संवाददाता सम्मेलन में रांची शहर में मौजूद रहने के बावजूद तेजस्वी यादव या राजद का कोई नेता नहीं आया. इस पर सफाई में हेमंत सोरेन ने कहा कि तेजस्वी लालू यादव से मिलने रांची मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल गए हैं.

हालांकि राजद के कोटे में कौन-कौन सी सात सीटें गई हैं उसके बारे में इस संवाददाता सम्मेलन में घोषणा की गई. लेकिन इस बार सोरेन और सिंह ने साफ़ किया कि अगर कोई पार्टी अपने हिस्से से ज़्यादा उम्मीदवार खड़े करेगी तो उस दल को बाहर कर दिया जाएगा. हालांकि आरपीएन सिंह ने साफ किया कि समझौते में कोई 50-50 का फ़ॉर्मूला नहीं है जिसके अनुसार जेएमएम का मुख्यमंत्री ढाई साल का हो और कांग्रेस का बाकी के ढाई साल के लिए.

झारखंड के चुनावी इतिहास में पहली बार विधानसभा चुनाव में भाजपा को एकजुट विपक्षी दलों का मुकाबला करना पड़ेगा.

झारखंड चुनाव : आजसू के 'डबल डिजिट' से भाजपा भंवर में!

गुरुवार को देर रात बैठकों के बारे में ख़ुद हेमंत सोरेन ने ट्वीट कर जानकारी दी थी. झारखंड कांग्रेस के प्रभारी आरपीएन सिंह के रांची आने के बाद उन्होंने हेमंत सोरेन और तेजस्वी यादव के साथ बैठकर सीटों के समझौते को अंतिम रूप दिया. झारखंड मुक्ति मोर्चा आज पहले चरण के चुनाव के लिए अपने प्रत्याशियों की घोषणा भी करेगी.

झारखंड में पहले चरण का मतदान 30 नवंबर को, दूसरे चरण का मतदान 7 दिसंबर को, तीसरे चरण का मतदान 12 दिसंबर को, चौथे चरण का मतदान 16 दिसंबर को और पांचवें चरण का मतदान 20 दिसंबर को होगा. चुनावों के नतीजे 23 दिसंबर को आएंगे. चुनाव आयोग (Election commission) ने कहा है कि उन्होंने व्यापक तैयारी की है और झारखंड में आदर्श आचार संहिता भी लागू कर दी गई है.

CM रघुबर दास के ट्वीट पर हेमंत सोरेन का हमला, बोले- एक बार सड़क से अपने विधानसभा क्षेत्र चले जाएं...

VIDEO : क्या था झारखंड में पिछले चुनवा का गणित

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement