झारखंड में फिर मॉब लिंचिंग: प्रतिबंधित मांस बेचने के शक में 3 लोगों को बुरी तरह पीटा, एक की मौत

Jharkhand Mob Lynching: तीन लोगों पर ग्रामीणों को शक था कि वो प्रतिबंधित मांस बेच रहे थे इसलिए उनकी पिटाई की गई. इस घटना में एक शख्स की मौत हो गई.

खास बातें

  • झारखंड में फिर हुई मॉब लिंचिंग
  • 3 लोगों को बुरी तरह पीटा, एक की मौत
  • प्रतिबंधित मांस बेचने के शक में हुई पिटाई
झारखंड:

खूंटी में मॉब लिंचिंग (Mob Lynching) का मामला सामने आया है. इस मामले में एक शख्स की मौत हो गई और 2 लोग गंभीर रूप से घायल हैं. तीनों लोगों पर ग्रामीणों को शक था कि वो प्रतिबंधित मांस बेच रहे थे. यह जानकारी डीआईजी एवी होमकर ने रविवार को दी. होमकर ने कहा, 'सुबह 10 बजे कर्रा पुलिस स्टेशन के प्रभारी को कुछ ग्रामीणों ने जानकारी दी कि कुछ लोग प्रतिबंधित मांस बेच रहे हैं और ग्रामीणों ने उन्हें पकड़ लिया है और उनकी पिटाई हो रही है. पुलिस जब वहां पहुंची तो पाया कि तीन लोगों की गांववालों ने पिटाई कर दी है. दो लोगों को इलाज के लिए रांची के रिम्स भेजा गया. एक शख्स की इलाज के लिए ले जाने के दौरान मौत हो गई.'

झारखंड में बच्ची से दुष्कर्म और हत्या मामले में दोषी को मौत की सजा

डीआईजी ने बताया कि पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने के लिए कई जगह छापे मारे और कुल पांच लोगों को पकड़ लिया गया है. उन्होंने कहा, 'हम संदिग्धों के आधार पर छापेमारी कर रहे हैं. 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. उनसे पूछताछ की जा रही है. इसके अलावा बाकी लोगों को पकड़ने के लिए टीमें बनाई गई हैं.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इससे पहले 18 जून को झारखंड के सरायकेला-खरसावां में बाइक चोरी के आरोप में भीड़ की पिटाई के एक सप्ताह बाद 22 वर्षीय तबरेज अंसारी की भी मौत हो गई थी. तबरेज पूना में वेल्डर का काम करता था और घटना के समय अपने गांव आया हुआ था.

VIDEO:  तबरेज अंसारी मामले में आरोप हल्के क्यों?