Jharkhand: विपक्ष की एकता का मंच बनेगा हेमंत सोरेन का शपथग्रहण समारोह

इस समारोह में विपक्षी पार्टियों की एकता भी देखने को मिलेगी, क्योंकि शरद पवार और राहुल गांधी सहित कई दिग्गज नेता इस समारोह में हिस्सा लेंगे.

Jharkhand: विपक्ष की एकता का मंच बनेगा हेमंत सोरेन का शपथग्रहण समारोह

खास बातें

  • हेमंत सोरेन के शपथ ग्रहण समारोह में दिखेगी विपक्षी एकता
  • कांग्रेस के दिग्गज नेताओं सहित शरद पवार भी होंगे शामिल
  • गैर बीजेपी शासित पांच राज्यों के मुख्यमंत्री भी आएंगे सामरोह में
नई दिल्ली:

झारखंड विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly election 2019) में झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (जेएमएम-कांग्रेस-आरजेडी) गठबंधन की ऐतिहासिक जीते के बाद आज विधायक दल के नेता और जेएमएम के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन (Hemant Soren) राज्य के 11वें मुख्यमंत्री के रूप में पद की शपथ लेंगे. शपथ ग्रहण सामरोह रांची के ऐतिहासिक मोहराबादी मैदान में आयोजित किया जा रहा है. इस समारोह में विपक्षी पार्टियों की एकता भी देखने को मिलेगी, क्योंकि शरद पवार और राहुल गांधी सहित कई दिग्गज नेता इस समारोह में हिस्सा लेंगे. इसके साथ ही बता दें, हेमंत सोरेन दूसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं. इससे पहले वह 2013 में राज्य के मुख्यमंत्री बने थे. 

झारखंड में हेमंत सोरेन की ताजपोशी आज, शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे दिग्गज कारोबारी

राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू आज दोपहर दो बजे हेमंत सोरेन को मोहराबादी मैदान में आयोजित समारोह में पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाएंगीं. वहीं मुख्यमंत्री कार्यालय ने कहा कि इस आयोजन को "संकल्प दिवस" के रूप में आयोजित किया जा रहा है. एक आधिकारिक बयान के अनुसार, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, उनकी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा, पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम, एनसीपी प्रमुख शरद पवार, राजद के तेजस्वी यादव, समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव इस कार्यक्रम में शामिल होंगे. बता दें, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल राज्य में चुनावी व्यस्तता के चलते शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होंगे. हेमंत सोरेन ने फोन पर शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने का न्योता दिया था. अब आम आदमी पार्टी की तरफ से राज्यसभा सांसद संजय सिंह शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेंगे.

मुख्यमंत्री की शपथ लेने से पहले हेमंत सोरेन की जनता से अपील, दिया एक शानदार आइडिया

इसके साथ ही इस कार्यक्रम में कई गैर-बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्री भी शामिल होंगे, जिनमें पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे हैं. बता दें, पिछले सप्ताह सोमवार हुई मतगणना में जेएमएम-कांग्रेस-आरजेडी गठबंधन ने 81 सीटों वाली विधानसभा में 47 सीटें जीतीं थी, जो बहुमत से काफी ज्यादा है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: गठबंधन में जाने से हुआ कांग्रेस-जेएमएम को फायदा