NDTV Khabar

अमरनाथ हमले से पूरा देश आहत, कश्‍मीर की हर हलचल का देश पर असर : जितेंद्र सिंह

हमले के बाद भी यात्रियों में किसी तरह का कोई डर नहीं है. यात्रा के लिए सुरक्षा इंतजाम और कड़े कर दिए गए हैं.

145 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमरनाथ हमले से पूरा देश आहत, कश्‍मीर की हर हलचल का देश पर असर : जितेंद्र सिंह

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह

खास बातें

  1. कहा-अमरनाथ हमले से पूरा देश प्रभावित हुआ है
  2. यात्रियों में किसी तरह का कोई डर नहीं
  3. जम्‍मू-कश्‍मीर के साथ पूरा देश खड़ा है
श्रीनगर: अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमले के बाद केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि हमले की निंदा यहां के सभी लोगों ने की है. हमले के बाद भी यात्रियों में किसी तरह का कोई डर नहीं है. यात्रा के लिए सुरक्षा इंतजाम और कड़े कर दिए गए हैं. उन्‍होंने कहा कि अमरनाथ हमले से पूरा देश प्रभावित हुआ है. हताहतों के बारे में बोलते हुए उन्‍होंने कहा कि सभी घायलों का सही तरीके से इलाज चल रहा है. इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि जम्‍मू-कश्‍मीर के साथ पूरा देश खड़ा है. कश्‍मीर में हर हलचल का देश में असर होता है. इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि कश्‍मीर से देश की भावना जुड़ी है. सुरक्षाबलों की सराहना करते हुए उन्‍होंने कहा कि हमको इन पर गर्व है.


उल्‍लेखनीय है कि अमरनाथ यात्रा पर गए श्रद्धालुओं से भरी एक बस पर अनंतनाग में सोमवार रात आतंकी हमला हुआ. इस हमले में 7 श्रद्धालुओं की मौत हो गई और 19 अन्य घायल हो गए. बस के ड्राइवर की सूझबूझ से कई यात्रियों की जान भी बचाई. इसके पूरे मामले में जांच में यह पता चला है कि इस आतंकी हमले का मास्टरमाइंड लश्कर नेटवर्क का आतंकी अबु इस्माइल था. बताया जा रहा है कि यह दो साल पहले भारतीय सीमा में घुसपैठ कर आ गया था. तब से यहां पर आतंकी गतिविधियों में लिप्त है.

जानकारी के अनुसार यह दक्षिण कश्मीर में सक्रिय है और पाकिस्तानी नागरिक है. यहां पर यह लश्कर का कमांडर है. पुलिस का कहना है कि इस आतंकी हमले को लश्कर ए तैयबा के तीन आतंकियों ने अंजाम दिया था. जम्मू एवं कश्मीर में सोमवार को अमरनाथ यात्रा के लिए जा रहे तीर्थयात्रियों पर आतंकवादी हमला करने वाले लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर मोहम्मद अबू इस्माइल की तलाश के लिए अभियान जारी है. इस आतंकी हमले में सात तीर्थयात्री मारे गए थे, और यह दक्षिण कश्मीर में ऑपरेट करने वाले इस 26-वर्षीय आतंकवादी द्वारा किए गए सबसे खतरनाक हमलों में से एक था. दिल्ली में बैठे सूत्रों ने NDTV को बताया है कि पाकिस्तानी नागरिक मोहम्मद अबू इस्माइल लगभग दो साल पहले पाकिस्तान से सीमा पार कर हिन्दुस्तान आया था, और दक्षिणी कश्मीर में वह लश्कर का स्थानीय कमांडर है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement