यह ख़बर 21 अगस्त, 2014 को प्रकाशित हुई थी

झामुमो ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा, कहा कि हरियाणा जैसी घटना की पुनरावृत्ति न हो

झामुमो ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा, कहा कि हरियाणा जैसी घटना की पुनरावृत्ति न हो

झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन की फाइल फोटो

रांची:

झारखंड मुक्ति मोर्चा ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर आगाह किया है कि हरियाणा के कैथल में वहां के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के साथ कल हुई कथित अपमानजनक घटना की रांची में गुरुवार को होने वाली उनकी रैली में पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए अन्यथा उसकी प्रतिक्रिया अच्छी नहीं होगी।

झामुमो के महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम लिखे अपने पत्र को आज मीडिया को जारी किया जिसमें स्पष्ट रूप से प्रधानमंत्री को आगाह किया गया है कि हरियाणा के मुख्यमंत्री के साथ हुई घटना की यहां पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए अन्यथा यहां की जनता इसे बर्दाश्त नहीं करेगी और इसकी प्रतिक्रिया बहुत अच्छी नहीं होगी।

सुप्रियो ने प्रधानमंत्री से यह भी शिकायत की है कि उनके राजनीतिक दल भाजपा ने कल के प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को पूरी तरह भाजपा का राजनीतिक कार्यक्रम बनाने की कोशिश की है जिसे रोका जाना चाहिए।

सुप्रियो ने पत्र की प्रतिलिपि केन्द्रीय गृहमंत्री और चुनाव आयोग को भी भेजकर उनसे प्रधानमंत्री के कार्यक्रम स्थल पर भाजपा के चुनाव चिह्न लगी गाड़ियों, झंडों आदि के उपयोग पर रोक लगाने की भी मांग की है। उन्होंने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में एक लाख भोजन के पैकेट भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच बांटे जाने की तैयारी की गई है। पत्र में सवाल उठाया है कि आखिर इसके लिए धन कहां से आया है।

पत्र में उन्होंने झारखंड विधानसभा चुनावों से ठीक पहले हो रही प्रधानमंत्री की इस सभा का राजनीतिक उपयोग करने से परहेज करने का अनुरोध किया है।

उन्होंने प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में किसी भी प्रकार की अभद्रता होने पर कड़ी कार्रवाई भी किए जाने की मांग की है।

प्रधानमंत्री मोदी कल रांची के धुर्वा इलाके में प्रभात तारा मैदान में आनलाइन बेड़ो में बने पावर ग्रिड के सब स्टेशन, इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन की पाइप लाइन, उत्तरी कर्णपुरा में एनटीपीसी की बिजली परियोजना के कार्य आदि का शुभारंभ करेंगे। साथ ही वह एक जनसभा को संबोधित करेंगे कार्यक्रम में ऊर्जा, कोयला और गैर-परंपरागत ऊर्जा राज्य मंत्री पीयूष गोयल, केन्द्रीय कानून और दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद के अलावा झारखंड के राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी उपस्थित रहेंगे।

बाद में मुख्यमंत्री प्रभात तारा मैदान में ही एक बड़ी जनसभा को भी संबोधित करेंगे जिसकी तैयारी पिछले पंद्रह दिनों से भाजपा कर रही है।

Newsbeep

इससे पूर्व कल हरियाणा के कैथल में आयोजित एक जनसभा के दौरान प्रधानमंत्री की उपस्थिति में भीड़ से कुछ लोगों ने वहां के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के खिलाफ नारेबाजी की थी और अपनी हूटिंग से नाराज हुड्डा ने बाद में प्रधानमंत्री के साथ किसी भी कार्यक्रम में शामिल होने की घोषणा कर दी थी।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कांग्रेस पार्टी के निर्देश पर हरियाणा के मुख्यमंत्री की तर्ज पर ही महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चह्वाण ने भी कल नागपुर में आयोजित होने जा रहे प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में शामिल न होने की घोषणा कर दी है।