JNU प्रशासन का बयान- कैंपस में कानून व्यवस्था की स्थिति गंभीर, पुलिस बुलाई गई

रजिस्ट्रार की तरफ से जारी रिलीज में कहा गया है, यह पूरे जेएनयू समुदाय के लिए एक अर्जेंट मैसेज है कि कैंपस में कानून व्यवस्था की गंभीर स्थिति पैदा हो गई है.

JNU प्रशासन का बयान- कैंपस में कानून व्यवस्था की स्थिति गंभीर, पुलिस बुलाई गई

बवाल में जेएनयू छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष बुरी तरह घायल हो गईं हैं.

नई दिल्ली :

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में हुई हिंसा पर विश्वविद्यालय प्रशासन ने एक रिलीज जारी कर अपना पक्ष रखा है. विवि के रजिस्ट्रार की तरफ से जारी रिलीज में कहा गया है, ''यह पूरे जेएनयू समुदाय के लिए एक अर्जेंट मैसेज है कि कैंपस में कानून व्यवस्था की गंभीर स्थिति पैदा हो गई है. चेहरे पर नकाब बांधे कुछ उपद्रवी तत्व हाथ में लाठी-डंडा लेकर कैंपस में घूम रहे हैं, लोगों पर हमले कर रहे हैं और संपत्ति को नुकसान पहुंचा रहे हैं. जेएनयू प्रशासन ने स्थिति को संभालने के लिए पुलिस बुला ली है.'' रिलीज में आगे कहा गया है, 'यह वक्त धैर्य बनाए रखने और सतर्क रहने का है. किसी भी आपात स्थिति में 100 नंबर की मदद ली जा सकती है. हालात को नियंत्रित करने के लिए तमाम कदम उठाए जा रहे हैं.' 

JNU में बवाल- चेहरे पर नकाब बांधे लोगों ने छात्रों और शिक्षकों पर किया हमला, कई गंभीर रूप से घायल 

बता दें कि जवाहर लाल नेहरू यूनिववर्सिटी (JNU) में देर शाम को चेहरे पर नकाब बांधे कुछ लोगों ने छात्रों और शिक्षकों पर हमला कर दिया. इनमें से 15 छात्रों को एम्स ट्रॉमा सेंटर में एडमिट कराया गया है. 2 छात्रों की हालत काफी गंभीर है और उन्हें सिर पर चोट लगी. हमले में छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष बुरी तरह घायल हो गईं हैं. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि शाम करीब 6:30 बजे लगभग 50 गुंडे जेएनयू कैंपस में में घुस आए और छात्रों पर हमला करना शुरू कर दिया. इन लोगों के कारों को भी निशाना बनाया और हॉस्टल में भी तोड़फोड़ की. जेएनयू के प्रोफेसर अतुल सूद ने NDTV को बताया कि इन हमलावरों में हॉस्टल पर पत्थरबाजी की और यूनिवर्सिटी की संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया. 

JNU में बवाल पर केजरीवाल बोले- अगर कैंपस के अंदर ही छात्र सुरक्षित नहीं हैं तो देश...

छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष ने बताया कि चेहरे पर नकाब डाले लोगों ने उनपर हमला किया और बुरी तरह से पिटाई की. इस हमले में उनके सिर पर गहरी चोट आई है. सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहा है कि 50 से ज्यादा की संख्या में लोग नकाब बांधकरा कैंपस में घूमते दिख रहे हैं, जिनके हाथों में हॉकी स्टीक, रॉड और बल्ला दिखाई दे रहा है. उधर, लेफ्ट ने एबीवीपी पर मारपीट का आरोप लगाया है. 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com