NDTV Khabar

JNU यौन उत्पीड़ मामला: प्रोफेसर अतुल जोहरी पुलिस के सामने पूछताछ में होंगे शामिल

इस मामले में प्रोफेसर जोहरी के खिलाफ अब तक पूरे 8 मामले दर्ज हो चुके हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
JNU यौन उत्पीड़ मामला: प्रोफेसर अतुल जोहरी पुलिस के सामने पूछताछ में होंगे शामिल

जेएनयू कैंपस (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी यानी जेएनयू के प्रोफेसर अतुल जोहरी के खिलाफ दिल्ली के वसंत कुंज नार्थ पुलिस स्टेशन में छात्राओं के साथ छेड़खानी और अश्लील कमेंट करने के आरोप में एफआईआर दर्ज की गई है. खास बात है कि इस मामले में प्रोफेसर जोहरी के खिलाफ अब तक एक नहीं, बल्कि पूरे 8 मामले दर्ज हो चुके हैं. दअरसल जेएनयू के लाइफ साइंस के प्रोफेसर अतुल जोहरी पर आरोप है कि क्लास के दौरान छात्राओं के साथ अश्लील बातें और छेड़खनी करते है. 

इस मामले में दिल्ली पुलिस ने प्रोफेसर अतुल जोहरी से संपर्क किया है और जोहरी ने भी पूछताछ में शामिल होने पर हामी भर दी है. जोहरी ने पुलिस से कहा है कि वह आज पूछताछ के लिए जाएंगे. हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि वह इस मामले में निर्दोष हैं. वहीं, पुलिस का कहना है कि जेएनयू प्रशासन और छात्तों की तरफ से लगातार शिकायतें आ रही हैं. 

बताया जा रहा है कि 4 पीड़ितों को 164 के तहत स्टेटमेंट भी कोर्ट में रिकॉर्ड हुआ है और कुछ लड़कियों के स्टेटमेंट आज रिकॉर्ड किये जाएंगे. पुलिस ने प्रोफेसर अतुल जोहरी को पूछताछ के लिए आज यानी मंगलवार को शाम 5 बजे बुलाया है. बता दें कि अतुल जोहरी सोमवार को पुलिस जांच में शामिल नहीं हुए थे. 


जेएनयू के प्रोफेसर पर छात्राओं के यौन उत्पीड़न का आरोप : छात्र संघ पहुंचा दिल्ली महिला आयोग

प्रोफेसर अतुल जोहरी के खिलाफ जेएनयू के कई छात्राएं पिछले कुछ दिनों से जेएनयू कैंपस में प्रदर्शन कर रही थीं. जेएनयू की 7 छात्राओं की शिकायत के आधार पर वसंत कुंज नार्थ पुलिस स्टेशन में धारा 354 और 509 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

कुछ दिन पहले जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के एक प्रोफेसर पर अनिवार्य उपस्थिति के विरोध में हो रहे प्रदर्शन के दौरान सार्वजनिक रूप से विश्वविद्यालय की एक छात्रा के साथ मारपीट करने का आरोप लगाया गया है. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि दोनों पक्षों ने वसंत कुंज मार्ग पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कराया है. छात्रों के एक समूह ने कक्षा में 75 फीसदी अनिवार्य उपस्थिति वाले जेएनयू प्रशासन के सर्कुलर का विरोध करते हुए कई स्कूलों के प्रवेश द्वार को बंद कर दिया था.

जेएनयू के प्रोफेसर के खिलाफ छात्राओं की शिकायत पर छेड़खानी का केस दर्ज

टिप्पणियां

टिप्पणिया दिल्ली के जेएनयू यानी जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में गुरुवार को सात चेयरपर्सन और डीन बदले जाने का शिक्षकों और छात्रों ने विरोध किया. इन लोगों को विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा हाल में बनाए गए हाजिरी के नए नियमों का पालन नहीं करने पर हटाया गया है. सेंटर फॉर हिस्टोरिकल स्टडीज के चेयरपर्सन पद से हटाई गईं सुचेता महाजन ने कहा, "प्रोफेसरों को हटाने (चेयरपर्सन व डीन पद से) का फैसला जल्दबाजी में लिया गया है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि यह कार्य इस तरह हुआ कि कार्यकारिणी समिति ने रातोंरात कुलपति को फैसला लेने की शक्ति प्रदान कर दी."

VIDEO: JNU की 9 छात्राओं का प्रोफ़ेसर पर छेड़खानी का आरोप



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement