JNU छात्र संघ आज संसद तक निकालेगा मार्च, कुलपति ने वीडियो जारी कर की हड़ताल खत्म करने की अपील

पुलिस ने बताया कि मार्च के मार्ग के आसपास सुरक्षा के पर्याप्त प्रबंध किये गये है.

JNU छात्र संघ आज संसद तक निकालेगा मार्च, कुलपति ने वीडियो जारी कर की हड़ताल खत्म करने की अपील

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ (JNUSU) हॉस्टल फीस बढ़ाने के अलावा शिक्षा के प्रभावित करने वाले कई और मुद्दों को लेकर सोमवार को संसद तक मार्च निकालेगा. इस विरोध प्रदर्शन में जेएनयू छात्र संघ ने अन्य विश्वविद्यालयों से भी भाग लेने की अपील की है. संसद का शीत कालीन सत्र भी आज से शुरू हो रहा है. जेएनयूएसयू ने कहा, ‘‘ऐसे समय में जब देश में शुल्क वृद्धि बहुत अधिक पैमाने पर हो रही है, तो समग्र शिक्षा के लिए छात्र आगे आए हैं. हम संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन जेएनयू से संसद तक निकाले जाने वाले मार्च में शामिल होने के लिए सभी छात्रों को आमंत्रित करते हैं.'' 

JNU में कथित तौर पर स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा तोड़ी गई, प्रशासन दर्ज कराएगा FIR

छात्र संघ ने दिल्ली के बाहर के छात्रों से 18 नवम्बर को आंदोलन आयोजित करने की अपील की. इस बीच जेएनयू के कुलपति जगदीश कुमार ने विरोध कर रहे छात्रों से रविवार को अपील की कि वे अपनी कक्षाओं में लौट आएं, क्योंकि परीक्षाएं नजदीक हैं. विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर जारी एक वीडियो संदेश में उन्होंने कहा कि उन्हें चिंतित अभिभावकों और छात्रों के ई-मेल आ रहे हैं. उन्होंने कहा, “यदि हम अभी भी हड़ताल पर अड़े रहे तो इससे हजारों छात्रों के भविष्य पर असर होगा.” उन्होंने कहा, “कल से एक नया हफ्ता शुरू होगा और मैं छात्रों से अनुरोध करता हूं कि आप कक्षाओं में वापस आइए और अपने शोध कार्यों को आगे बढ़ाइए. 12 दिसंबर से सेमेस्टर परीक्षाएं शुरू होंगी और अगर आप कक्षाओं में नहीं जाएंगे तो इससे आपके भविष्य के लक्ष्य प्रभावित होंगे.” 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

शिक्षकों ने नई शिक्षा नीति के खिलाफ किया प्रदर्शन

पुलिस ने बताया कि मार्च के मार्ग के आसपास सुरक्षा के पर्याप्त प्रबंध किये गये है. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दक्षिण-पश्चिम जिले से शुरू होने वाले सभी संभावित मार्गों से संसद की ओर जाने वाले सभी प्रवेश बिंदुओं पर पुलिसकर्मी तैनात किए जाएंगे. उन्होंने कहा, ‘‘ संसद के शीतकालीन सत्र के लिए संसद के आसपास पूरे क्षेत्र की सुरक्षा कड़ी की है. किसी भी अप्रिय स्थिति को टालने के लिए अन्य जिलों से भी अतिरिक्त पुलिसकर्मी तैनात किये जायेगे.'' 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)