NDTV Khabar

जोधपुर में 20 साल की लड़की को जिंदा जलाया, पेड़ काटने का किया था विरोध

815 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. लड़की ने अपने खेत के पेड़ काटे जाने पर जताया था विरोध
  2. लड़की पर पेट्रोल डालकर जला दिया गया
  3. पुलिस सरपंच के खिलाफ जांच कर रही है
जोधपुर: जोधपुर के एक गांव में सरपंच और उसके आदमियों ने कथिततौर पर एक 20 साल की लड़की को ज़िंदा जला दिया. गांव वालों का कहना है कि पेड़ काटने की वजह से झगड़ा हुआ, जिसके बाद यह घटना हुई. मामले की रिपोर्ट थाने में दर्ज की गई है. पुलिस के मुताबिक- ललिता ने अपने खेत के पेड़ काटे जाने पर विरोध जताया था. इसके बाद झगड़ा हुआ और गांव वालों के एक ग्रुप ने उस पर हमला कर दिया. उन्होंने लड़की पर पेट्रोल डाला और जला दिया. लड़की की अस्पताल में सुबह मौत हो गई. पुलिस ने यह भी बताया कि वे सरपंच में लगे आरोपों की जांच कर रहे हैं. रणवीर सिंह उन लोगों में शामिल थे जिन्होंने लड़की को जलाया.

थानाप्रभारी सुरेश चौधरी ने ANI को बताया-  सरपंच, पटवारी और अन्य लोगों ने पेट्रोल डाल कर लड़की को जिंदा जला दिया. शव को शवगृह में रखा गया है. शीघ्र ही जांच कर आरोपियों पर कार्रवाई की जाएगी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक- युवती के परिजनों ने आरोप लगाया है कि गांव में बन रही सड़क को जान-बूझकर पटवारी और कुछ लोग मिलीभगत कर उनके खेत से निकालने की कोशिश कर रहे हैं. इसके लिए खेत में लगे पेड़ काटे जा रहे थे.

उधर, ओडिशा के जाजपुर ज़िले के धर्मशाला में दिल दहला देनेवाली एक घटना सामने आई है. जहां एक नवजात बच्ची को ज़िंदा खेत में दफना दिया गया था. स्कूल जाती एक बच्ची की नज़र नवजात के पैर पर पड़ी, तब उसने गांववालों को आवाज़ दी. गांववालों ने नवजात को बाहर निकाला तब उसकी सांस चल रही थी. गांववालों ने उसे एक हेल्थ वर्कर को सौंप दिया. माना जा रहा है कि जन्म के बाद उसके माता-पिता ने उसके साथ ऐसी घिनौनी हरकत की.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement