VIDEO: मॉस्‍क नहीं पहनने पर पुलिसकर्मी ने शख्‍स को बुरी तरह पीटा, सोशल मीडिया पर लोगों ने जॉर्ज फ्लायड केस से की तुलना..

यह घटना गुरुवार को एक थिएटर के सामने हुई. पुलिस का दावा है कि मुकेश कुमार प्रजापत नाम के शख्‍स द्वारा हमला किए जाने के बाद कांस्‍टेबलों ने प्रतिक्रिया दी. पुलिस के अनुसार, मुकेश का गुस्‍से में आक्रामक अंदाज में व्‍यवहार करने का इतिहास रहा है. उसे आज कोर्ट में पेश किया गया.

VIDEO: मॉस्‍क नहीं पहनने पर पुलिसकर्मी ने शख्‍स को बुरी तरह पीटा, सोशल मीडिया पर लोगों ने जॉर्ज फ्लायड केस से की तुलना..

वीडियो में कांस्‍टेबल को शख्‍स पर घुटने से दबाव बनाते हुए देखा जा सकता है

जयपुर:

Coronavirus Pandemic: कोरोना वायरस की महामारी के बीच राजस्‍थान में एक पुलिसकर्मी द्वारा कथित तौर पर मॉस्‍क नहीं पहनने पर एक शख्‍स को बेरहमी से पीटने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है. राजस्‍थान के जोधपुर के इस इस वीडियो में पुलिसकर्मी को व्‍यक्ति घुटनों से दबाकर पीटते हुए देखा जा सकता है. बताया जाता है कि मॉस्‍क नहीं पहनने पर इस यह पिटाई की गई. सोशल मीडिया पर इस वीडियो की कई लोगों ने अमेरिका के जॉर्ज फ्लायड (Rajasthan's George Floyd moment) मामले से तुलना की है. वैसे, मोबाइल पर शूट किए गए इस वीडियो में इस शख्‍स को भी दो पुलिसकर्मियों को जवाब में मारते हुए देखा जा सकता है. दो कांस्‍टेबलों में से एक ने इस व्‍यक्ति को काबू करने के लिए उसके ऊपर घुटने जमा रखे हैं जबकि दूसरा उसके हाथ पकड़े हुए है.

 

यह घटना गुरुवार को एक थिएटर के सामने हुई. पुलिस का दावा है कि मुकेश कुमार प्रजापत नाम के शख्‍स द्वारा हमला किए जाने के बाद कांस्‍टेबलों ने प्रतिक्रिया दी. पुलिस के अनुसार, मुकेश का गुस्‍से में आक्रामक अंदाज में व्‍यवहार करने का इतिहास रहा है. उसे आज कोर्ट में पेश किया गया, जहां से पुलिसकर्मियों को ड्यूटी करने से रोकने के आरोप में उसे हिरासत में भेज दिया गया. प्रताप नगर के एक पुलिस अधिकारी ने कहा, "उसने मॉस्‍क नहीं पहना हुआ था और पुलिसकर्मियों से झगड़ा किया. इस शख्‍स ने उनकी यूनिफॉर्म भी फाड़ दी. इस संबंध में एक केस दर्ज किया गया है."

देश में कोरोना वायरस के केसों में हो रही लगातार वृद्धि के बीच कई राज्यों में मॉस्क अनिवार्य कर दिया गया है. जब दोनों कांस्टेबलों ने प्रजापत से इस बारे में कहा तो वह हमला करने लगा और पुलिसवालों को धमकी दी. पुलिस ने दावा किया कि प्रजापत के खिलाफ एक पुराना मामला है, जिसमें उसके पिता ने ही उस पर आंख को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया था. वैसे, सोशल मीडिया पर कई लोगों रने इस मामले की तुलना अश्‍वेत जॉर्ज फ्लायड पर पुलिस की बर्बरता से की. अमेरिका के मिनियापोलिस में एक पुलिस अधिकारी ने फ्लायड को जमीन पर पटककर उसके ऊपर घुटने से दबाव बनाया था जिसमें उसकी मौत हो गई थी. वैसे, राजस्थान की इस घटना में पुलिस ने दावा किया है कि मुकेश प्रजापत नाम के शख्‍स ने उन्हें तब मारना शुरू कर दिया जब वे उसे ले जाने के लिए वैन का इंतजार कर रहे थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com