चीन जासूसी मामला: कोर्ट ने पत्रकार राजीव शर्मा सहित तीनों आरोपियों को 7 दिन की रिमांड पर भेजा

दिल्ली पुलिस  (Delhi Police) ने कोर्ट में बताया कि रक्षा मंत्रालय को पत्र लिखा है और पूछा है कि जो डाक्यूमेंट्स बरामद हुए हैं उनका कस्टोडियन कौन है? .

चीन जासूसी मामला: कोर्ट ने पत्रकार राजीव शर्मा सहित तीनों आरोपियों को 7 दिन की रिमांड पर भेजा

जासूसी मामले में पत्रकार राजीव शर्मा सहित तीन आरोपियों को अरेस्‍ट किया गया है

खास बातें

  • पुलिस ने कोर्ट के मांगी थी आठ दिन की रिमांड
  • पत्रकार राजीव शर्मा की बेल पर सुनवाई टली
  • इस मामले में अब 28 सितंबर को होगी सुनवाई
नई दिल्ली:

चीन (China) के लिए जासूसी का मामले में पुलिस ने तीनों आरोपियों राजीव शर्मा,किंग शी और शेर सिंह 8 दिन की  की रिमांड मांगी थी.कोर्ट ने इन तीनों को 7 दिन की रिमांड पर भेजा. दिल्ली पुलिस  (Delhi Police) ने कोर्ट में बताया कि रक्षा मंत्रालय को पत्र लिखा है और पूछा है कि जो डाक्यूमेंट्स बरामद हुए हैं उनका कस्टोडियन कौन है? पत्रकार राजीव (Rajeev Sharma)  के पास से रक्षा से जुड़े बहुत ही सीक्रेट  दस्तावेज बरामद हुए है. उनके मोबाइल और लैपटॉप से काफी ज्यादा डाटा मिला है. राजीव की बेल पर सुनवाई टल गई है. अब मामले की सुनवाई 28 तारीख को होगी.

चीनी सरकार के अखबार के लिए लिखते थे पत्रकार राजीव शर्मा, चीन से मिली मोटी रकम

गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस ने एक वरिष्ठ पत्रकार राजीव शर्मा को चीन (China) के लिए जासूसी करने के आरोप में गिरफ्तार किया है. उनके साथ एक चीनी महिला और नेपाल के एक नागरिक को गिरफ्तार किया था. आरोप है कि इन दोनों के जरिए सेल कंपनी बनाकर राजीव को जासूसी के एवज में पैसा सौंपा जा रहा था. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के सूत्रों के मुताबिक आरोपी चीनी महिला किंग शी की दोनों शैल कंपनियों से हवाला के जरिए मोटी रकम राजीव शर्मा को जा रही थी. किंग शी भगीरथ पैलेस के कुछ दवाई होलसेलरों के संपर्क में से जिनसे वह अपनी फार्मेसी कंपनी के लिए दवाई खरीदती थी.

किंग शी के ऑफिस से उसकी कंपनी के इन होलसेलरों से कनेक्शन के दस्तावेज मिले थे.स्पेशल सेल ये भी जानने की कोशिश कर रही है कि किंग शी ने इन दवाई होल सेलरों को जो पेमेंट किया है क्या वाकई उसकी एवज में दवाई खरीदी थी या फिर यह पेमेंट भी उसी हवाला ट्रांजेक्शन का हिस्सा है.दिल्ली पुलिस ने 61 वर्षीय वरिष्ठ पत्रकार राजीव शर्मा को उनके पीतमपुरा के घर से 14 सितम्बर को गिरफ्तार किया था. आरोप है कि राजीव शर्मा चीन के इंटेलीजेंस अफसरों को भारतीय सेना और रक्षा से जुड़े दस्तावेज भेज रहे थे और इसके बदले उन्हें वहां से काफी पैसा आ रहा था. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

दिल्ली पुलिस ने पत्रकार को किया गिरफ्तार, चीन के लिए जासूसी का आरोप