Delhi Polls: बाहरी लोगों के इलाज को लेकर जेपी नड्डा का केजरीवाल पर पलटवार, कहा- आपको अहसास तक नहीं...

अरविंद केजरीवाल ने बिहार के लोगों को लेकर बीते साल सितंबर में दिल्ली के मंगोलपुरी में एक ट्रॉमा सेंटर का शिलान्यास करते हुए यह बयान दिया था.

Delhi Polls: बाहरी लोगों के इलाज को लेकर जेपी नड्डा का केजरीवाल पर पलटवार, कहा- आपको अहसास तक नहीं...

केजरीवाल इस बयान के लिए पहले सफाई दे चुके हैं.

खास बातें

  • बीते साल अक्टूबर में दिया था केजरीवाल ने बयान
  • जेपी नड्डा ने ट्वीट किया बयान का वीडियो
  • पूर्वांचल और बिहार के लोगों को लेकर कहा था- दिल्ली में आकर कराते हैं इलाज
नई दिल्ली:

बाहरी राज्यों के लोगों द्वारा दिल्ली के अस्पतालों में इलाज कराने को लेकर दिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बयान पर एक बार फिर सियासत गर्मा गई है.  बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने केजरीवाल के उस बयान का वीडियो ट्वीट कर निशाना साधा है जिसमें उन्होंने कहा था कि बिहार का एक आदमी 500 रुपये के टिकट से ट्रेन में बैठकर दिल्ली आता है और 5 लाख का इलाज फ्री में करवा कर चला जाता है. नड्डा ने कहा कि उन्होंने पूर्वांचल के लोगों का अपमान किया है और आयुष्मान योजना लागू न कर दिल्ली ही नहीं बल्कि अन्य राज्यों से आने वाले लोगों को 5 लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज से वंचित रखा. 

नड्डा ने ट्वीट कर कहा, ''केजरीवाल जी, दिल्ली को बनाने में पूर्वांचल के लोगों का बहुत बड़ा योगदान है लेकिन आपको इस बात का अहसास तक नहीं.  जिस तरह आपने पूर्वांचली भाई-बहनों का बार-बार अपमानित किया, वह एक मुख्यमंत्री को शोभा नहीं देता, जो अपने प्रदेश के लोगों का सम्मान नहीं कर सकता, वो उनका भला क्या करेगा?''

बिहार BJP की नई कार्यकारिणी का गठन इसी महीने, कई पुराने चेहरों की छुट्टी तय!

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने दिल्ली में आयुष्मान योजना लागू न करने को लेकर केजरीवाल से कहा, ''आपने दिल्ली मे मोदी जी की आयुष्मान भारत योजना को लागू नहीं होने दिया. सिर्फ़ दिल्ली के ही नहीं अन्य राज्यों से आने वाले लोगों को 5 लाख रुपये तक के मुफ़्त इलाज से वंचित रखा. पूर्वांचल से जो गरीब दिल्ली आकर अपना मुफ़्त इलाज करवा सकते थे,उन्हें आपने अपमानित किया. दिल्ली सब देख रही है.''

बता दें ये बयान अरविंद केजरीवाल ने बिहार के लोगों को लेकर बीते साल सितंबर में दिल्ली के मंगोलपुरी में एक ट्रॉमा सेंटर का शिलान्यास करते हुए यह बयान दिया था. उस वक्त भी बीजेपी ने इस बयान को लेकर उनके  खिलाफ मोर्चा खोल दिया था.  विजय गोयल ने सवालिया अंदाज में कहा था कि क्या बांग्लादेशी और रोहिंग्या ही दिल्ली में रह सकते हैं और अपना इलाज करा सकते हैं. बिहार, उत्तर प्रदेश हो या फिर पूर्वांचली लोग केजरीवालजी के लिए बाहरी हैं?

गृह मंत्री अमित शाह ने थामी दिल्ली चुनाव की कमान, BJP को जीत दिलाने के लिए ऐसे बना रहे 'रणनीति'

बाद में केजरीवाल ने इस बयान पर सफाई देते हुए कहा था कि दिल्ली में इलाज कराने या शिक्षा के लिए मना नहीं किया गया है. दिल्ली में दूर-दूर से लोग इलाज कराने आते हैं. हमारी पार्टी नई राजनीति कर रही है. अगर हम सेवा कर पाएं तो खुशी होती है. हमारी इच्छा है कि देशभर में दिल्ली की तरह शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में बदलाव हो. 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com