'जंगलराज का युवराज': बिहार चुनाव प्रचार में पीएम नरेंद्र मोदी का तेजस्वी यादव पर तीखा तंज

Bihar Elections 2020: तेजस्वी के 10 लाख नौकरियों के वादे पर पीएम मोदी ने कहा, अगर वो आए तो सरकारी नौकरियों की बात तो भूल जाइए, यहां तक कि प्राइवेट नौकरियां देने वाली कंपनियां भी भाग जाएंगी.

'जंगलराज का युवराज': बिहार चुनाव प्रचार में पीएम नरेंद्र मोदी का तेजस्वी यादव पर तीखा तंज

Bihar Elections 2020: एक चुनावी जनसभा में पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम नीतीश कुमार.

पटना:

Bihar Elections 2020: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व उप मुख्यमंत्री और विपक्षी महागठबंधन की अगुवाई कर रहे 31 साल के राजद नेता तेजस्वी यादव पर तीखा हमला बोला है. पीएम ने तेजस्वी को जंगलराज का युवराज करार दिया है. बिहार चुनाव प्रचार के दूसरे दौरे में आज मुजफ्फरपुर में दूसरी जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने तेजस्वी और लालू परिवार पर तंज कसा. पीएम मोदी ने अपने भाषण में लालू-राबड़ी के 15 वर्षं के शासनकाल को जंगलराज बताया और तेजस्वी को उसका युवराज.

पीएम ने कहा, "जंगलराज के युवराज से बिहार के लोगों को कई उम्मीद नहीं बची है क्योंकि उनका पिछला रिकॉर्ड बहुत खराब रहा है." उन्होंने कहा, "मैंने उनके ट्रैक रिकॉर्ड का मूल्यांकन किया है और उसी के आधार पर ये बातें कह रहा हूं, हालांकि, आपलोग मुझसे बेहतर जानते हैं."

तेजस्वी के 10 लाख नौकरियों के वादे पर पीएम मोदी ने कहा, "अगर वो सरकार में आए तो सरकारी नौकरियों की बात तो भूल जाइए, यहां तक कि प्राइवेट नौकरियां देने वाली कंपनियां भी भाग जाएंगी." बता दें कि तेजस्वी यादव अपनी चुनावी सभाओं में यह बार बार कह रहे हैं कि अगर उनकी सरकार बनी तो पहली कैबिनेट मीटिंग में पहला फैसला 10 लोगों को सरकारी नौकरियां देने का लेंगे.

बिहार चुनाव : रैली में PM मोदी की अयोध्या पर टिप्पणी ने दिलाई नीतीश कुमार के 2015 वाले तंज की याद

पीएम मोदी ने लालू यादव के शासनकाल की याद दिलाते हुए कहा कि उनके 15 वर्षों के शासनकाल में राज्य में कानून व्यवस्था चरमरा चुकी थी, अपराध का ग्राफ बहुत ऊपर था, अपराधी बेलगाम थे. उन्होंने कहा, "फिर से उन्हीं लोगों का शासन आया तो कंपनियां अपने ऑफिस बंद कर देंगी भाग जाएंगी. जिस पार्टी के पास किडनैपिंग का कॉपी राइट है, उसे के संरक्षित लोग जबरन फोन कॉल कर रंगदारी मांगें." 

बिहार चुनाव: पहला चरण तेजस्वी यादव और महागठबंधन के लिए लिटमस टेस्ट? जानें- पांच अहम बातें

Newsbeep

मौजूदा चुनावों में पहली बार पीएम मोदी के भाषण में विकास की बातों से ज्यादा लालू परिवार और तेजस्वी पर निजी तौर पर हमले किए गए हैं. सीएम नीतीश कुमार भी पहली बार अपनी चुनावी रैलियों में विकास की बातें छोड़ तेजस्वी पर व्यक्तिगत हमले करते नजर आ रहे हैं.

वीडियो: बिहार: सासाराम के युवा मतदाताओं से बातचीत, नौकरी छोड़ चाय बेचने को मजबूर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com