NDTV Khabar

बिहार में महागठबंधन का टूटना जनादेश का अपमान : ज्योतिरादित्य सिंधिया

कांग्रेस नेता ने संवाददाताओं से कहा, "महागठबंधन का टूटना जनादेश पर किया गया कुठाराघात है'.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार में महागठबंधन का टूटना जनादेश का अपमान : ज्योतिरादित्य सिंधिया

फाइल फोटो

नई दिल्ली: पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि बिहार में राष्ट्रीय जनता दल (राजद), कांग्रेस और जनता दल (युनाइटेड)का महागठबंधन तोड़कर हारे हुए दल के साथ मिलकर फिर से सरकार बनाना जनादेश का अपमान है. कांग्रेस नेता ने संवाददाताओं से कहा, "महागठबंधन का टूटना जनादेश पर किया गया कुठाराघात है. कुछ घंटे में निर्णय लेकर फिर से उन्हीं लोगों के साथ सरकार बनाना, जिनके खिलाफ चुनाव लड़ा गया था और अपार जनादेश मिला था, यह जनादेश का अपमान है.'  पटना में कांग्रेस की बैठक में भाग लेने पहुंचे सिंधिया ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ने बिहार में जनादेश का अपमान किया है. भविष्य में इसका जनता खुद जवाब देगी. 

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें :  कमलनाथ संभालेंगे मध्यप्रदेश कांग्रेस की कमान, सिंधिया बनेंगे लोकसभा में उप नेता?

केंद्र सरकार पर राजनीतिक हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की नीति और नियम में कोई मेल नहीं है. पिछले तीन सालों में देश में ऐसा माहौल बनाया जा रहा है जिसमें लोगों की अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर लगाम लगाई जा रही है.  उन्होंने कहा, 'मीडिया हो, शिक्षण संस्थान हो या संसद हो, लोगों को अपने विचार व्यक्त नहीं करने दिया जा रहा है. यह चिंता का विषय है.'  

Video : दिवालियापन की कगार पर जेपी इंफ्राटेक​
उन्होंने बिहार में कांग्रेस में किसी प्रकार के मतभेद से इनकार करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी मजबूत है, कांग्रेस को किसी मंत्र की जरूरत नहीं है. कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में जोश है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पहले भी एक थी, आज भी एक है और आगे भी एक रहेगी.  पटना में बैठक में कांग्रेस के विधायक, जिलाध्यक्ष और प्रदेश के अन्य पार्टी पदाधिकारी भाग ले रहे हैं. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement