NDTV Khabar

पूर्व राष्ट्रपति कलाम जिस जगह हुए थे सुपुर्द-ए-खाक, वहीं बनेगा उनका स्मारक : रक्षामंत्री पर्रिकर

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पूर्व राष्ट्रपति कलाम जिस जगह हुए थे सुपुर्द-ए-खाक, वहीं बनेगा उनका स्मारक : रक्षामंत्री पर्रिकर

पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम की मजार

खास बातें

  1. तृणमूल कांग्रेस के सदस्य डेरेक ओ ब्रायन ने राज्यसभा में उठाया यह मुद्दा
  2. इसके जवाब में रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने दी यह जानकारी
  3. 27 जुलाई को पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम पहली पुण्यतिथि होगी
नई दिल्ली:

रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने मंगलवार को बताया कि तमिलनाडु के रामेश्वरम में पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की याद में स्मारक की आधारशिला रखी जाएगी। इसी स्थान पर कलाम के पार्थिव शरीर को दफनाया गया है।

तृणमूल कांग्रेस के सदस्य डेरेक ओ ब्रायन द्वारा राज्यसभा में यह मुद्दा उठाए जाने के बाद मंत्री ने यह कही। डेरेक ओ ब्रायन ने कहा, 'आज गुरु पूर्णिमा है, वह दिन जब हम उन्हें सम्मान देते हैं जिन्होंने हमें जीवन में अच्छी बातें सिखाईं।'

पर्रिकर ने कहा कि सरकार कलाम के स्मारक के निर्माण में सहयोग कर रही है। उन्होंने कहा कि इसके निर्माण में देर इसलिए हुई, क्योंकि केंद्र सरकार स्मारक के लिए अतिरिक्त भूमि चाहती थी। उन्होंने राज्यसभा में शून्यकाल के दौरन बताया कि केंद्र मशहूर वैज्ञानिक कलाम के स्मारक के लिए पांच एकड़ भूमि चाहता है, लेकिन अभी सिर्फ 1.8 एकड़ भूमि ही उपलब्ध हो पाई है।

टिप्पणियां

पर्रिकर ने कहा, '27 जुलाई को आधारशिला रखी जाएगी। इसके डिजाइन को अंतिम रूप दिया जा चुका है और हम अतिरिक्त भूमि के लिए इंतजार नहीं कर रहे।' गौरतलब है कि 27 जुलाई को कलाम की पहली पुण्यतिथि होगी।


(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement