NDTV Khabar

PM नरेंद्र मोदी की नोटबंदी का समर्थन करने वाले कमल हासन ने कहा 'मैं माफी चाहता हूं...'

लगभग 2 महीने पहले कमल हासन ने यह घोषणा की थी कि वह जल्‍द ही खुद की एक राजनीति पार्टी का गठन करेंगे, जो लोकतांत्रिक सिस्‍टम के भीतर से भ्रष्‍टाचार मिटाने के लिए होगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
PM नरेंद्र मोदी की नोटबंदी का समर्थन करने वाले कमल हासन ने कहा 'मैं माफी चाहता हूं...'

कमल हासन पहले नोटबंदी की तारीफ कर चुके हैं.

तमिलनाडु: देश में हुई नोटबंदी की तरीफ कर चुके एक्‍टर कमल हासन ने अब अपनी इस तारीफ पर यूटर्न ले लिया है. कमल हासन ने प्रधानमंत्री मोदी का नोटबंदी पर सपोर्ट करने से लिए माफी मांगी है. हाल ही में राजनीति में आने के अपने इरादे साफ कर चुके कमल हासन ने कहा, 'अगर प्रधानमंत्री अपनी गलती मान लें, तो मैं उन्‍हें सलाम करुंगा..' कमल हासन ने अपनी यह बात तमिल मैगजीन में छपने वाले अपने एक कॉलम में लिखी है. नोटबंदी की तारीफ कर चुके कमल हासन ने कहा, 'अपनी गलती मानना और उसे सुधारना अच्‍छे राजनैतिज्ञ की पहचान है.' बता दें कि पिछले साल 8 नवंबर को देश में लागू हुई नोटबंदी के बाद कमल हासन ने ट्वीट किया था, 'मिस्‍टर मोदी को सलाम. इस कदम की सारी राजनीतिक विचारधाराओं से ऊपर उठकर तारीफ होनी चाहिए.'

यह भी पढ़ें: अरविंद केजरीवाल और कमल हासन की मुलाकात, प्रमुख खबरें जिन पर रहेगी आज नजर

लगभग 2 महीने पहले कमल हासन ने यह घोषणा की थी कि वह जल्‍द ही खुद की एक राजनीति पार्टी का गठन करेंगे, जो लोकतांत्रिक सिस्‍टम के भीतर से भ्रष्‍टाचार मिटाने के लिए होगी. कमल हासन ने आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से भी कुछ समय पहले तमिलनाडु में मुलाकात की थी. केजरीवाल से मिलने के बाद हासन ने कहा था, 'दिल्ली के सीएम आज मुझसे मिलने आए, मेरे लिए यह सम्मान की बात है. उन्होंने भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ी है. उनकी छवि करप्शन से लड़ने को लेकर रही है.' कमल हासन ने केजरीवाल की काफी तारीफ की थी.
 
kamal haasan arvind kejriwal

यह भी पढ़ें: नोटबंदी के फैसले पर आरबीआई को शर्म आनी चाहिए : पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम

बता दें कि पिछले साल 8 नवंबर को हुई नोटबंदी के दौरान देशभर में 500 और 1000 के नोट बंद कर दिए गए थे और उसकी जगह 500 के नए और 2000 के नोट लाए गए थे. नोटबंदी के बारे में हाल ही में भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने एक संसदीय समिति को बताया है उसे यह नहीं पता है कि 500 और 1000 के नोटों को बंद करने के बाद कितनी बेहिसाबी नकदी को वैध धन में बदला गया है. आरबीआई ने यह भी कहा कि उसके पास इस बारे में कोई सूचना नहीं है कि नोटबंदी से कितना कालाधन खत्म हुआ है. आरबीआई ने कहा कि नोटबंदी के बाद अनुमानत: 15.28 लाख करोड़ रुपये के बंद किए गए नोट लौटे हैं.

VIDEO: क्या पक रही है खिचड़ी : चेन्नई में मिले केजरीवाल और कमल हासन

टिप्पणियां


...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement