NDTV Khabar

कमल हासन की पार्टी तमिलनाडु में नहीं लड़ेगी उपचुनाव, बताई ये वजह

कमल हासन ने तमिलनाडु विधानसभा की दो सीटों पर 21 अक्टूबर को होने वाले उपचुनाव पर कहा कि उनकी पार्टी इसमें हिस्सा नहीं लेगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कमल हासन की पार्टी तमिलनाडु में नहीं लड़ेगी उपचुनाव, बताई ये वजह

कमल हासन की पार्टी नहीं लड़ेगी उपचुनाव

खास बातें

  1. कमल हासन की पार्टी तमिलनाडु में नहीं लड़ेगी उपचुनाव
  2. कहा- भ्रष्ट राजनीतिक तमाशों का हिस्सा नहीं बनना चाहते
  3. एमएनएम ने लोकसभा चुनाव-2019 से चुनावी राजनीति की शुरुआत की थी
चेन्नई :

मक्कल निधि मय्यम (एमएनएम) प्रमुख कमल हासन (Kamal Haasan) ने तमिलनाडु विधानसभा की दो सीटों पर 21 अक्टूबर को होने वाले उपचुनाव को अन्नाद्रमुक और द्रमुक का 'भ्रष्ट राजनीतिक तमाशा' और 'सत्ता संघर्ष' करार देते हुए रविवार को कहा कि उनकी पार्टी इसमें हिस्सा नहीं लेगी. एमएनएम ने लोकसभा चुनाव-2019 से चुनावी राजनीति की शुरुआत की थी और कई सीटों पर तीसरे स्थान पर रही. हासन ने कहा कि वह नानगुनेरी और विक्रवंडी उपचुनाव के नाम पर भ्रष्ट राजनीतिक तमाशों का हिस्सा नहीं बनना चाहते.

हिंदी विवाद पर कमल हासन का वार, कहा- किसी शाह, सुल्तान या सम्राट को नहीं तोड़ना चाहिए विविधता में एकता का वादा

यहां जारी बयान में हासन ने कहा, 'यह बहुत स्पष्ट है कि उपचुनाव सत्तारूढ़ दल और पहले शासन करने वाली पार्टी के बीच सत्ता संघर्ष के अलावा कुछ नहीं है. वे अपनी ताकत और पद बचाने के लिए ऐसा कर रहे हैं.' 


टिप्पणियां

सभी धर्म में आतंकवादी रहे हैं, कोई यह नहीं कह सकता है वह 'पवित्र' है : कमल हासन

अभिनेता से राजनेता बने हासन ने कहा कि एमएनएम तेजी से तमिलनाडु के लोगों का समर्थन हासिल करने की कोशिश कर रही है और वर्ष 2021 में सरकार बनाएगी, पुराने और बेकार हो चुके राजनीतिक दलों को हटाएंगे और उनका भ्रष्टाचार खत्म कर बेहतर प्रशासन मुहैया कराएंगे, लोग जिसके हकदार हैं. 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... नागरिकता सिर्फ अधिकार नहीं बल्कि कर्तव्यों के बारे में भी है : चीफ जस्टिस एसए बोबडे

Advertisement