NDTV Khabar

मध्य प्रदेश: कमलनाथ ने बेटे को सौंपी छिंदवाड़ा की जिम्मेदारी, दिग्विजय सिंह से कठिन सीट पर चुनाव लड़ने के लिए कहा

लोकसभा चुनावों के ऐलान होते ही मध्य प्रदेश में सियासी हलचले तेज हो गई हैं. इसी दौरान मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ दो दिवसीय कार्यक्रम के तहत छिंदवाड़ा पहुंचे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्य प्रदेश: कमलनाथ ने बेटे को सौंपी छिंदवाड़ा की जिम्मेदारी, दिग्विजय सिंह से कठिन सीट पर चुनाव लड़ने के लिए कहा

कमलनाथ (फाइल फोटो)

छिंदवाड़ा:

लोकसभा चुनावों के ऐलान होते ही मध्य प्रदेश में सियासी हलचले तेज हो गई हैं. इसी दौरान मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ दो दिवसीय कार्यक्रम के तहत छिंदवाड़ा पहुंचे. वहां उन्होंने  कांग्रेस के सीनियर लीडर और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के चुनाव लड़ने संबंधी सवाल पर कहा कि दिग्विजय सिंह कहां से चुनाव लड़ना चाहते हैं यह वह खुद तय करेंगे लेकिन मैंने उनसे आग्रह किया है कि वो उन प्रदेश की कठिन सीट से चुनाव लड़ें. मध्य प्रदेश में टिकट वितरण संबंधी सवाल पर उन्होंने कहा कि इस पर काम चल रहा है और आने वाले 4 से 5 दिनों में इसका ऐलान भी हो जाएगा. 

'मसूद जी' कहने पर निशाना बने राहुल गांधी के बचाव में कांग्रेस लेकर आई BJP का 'हाफिज जी', देखें VIDEO

छिंदवाड़ा में अपने राजनीतिक करियर के 40 साल बिताने वाले कमलनाथ ने बटकाखापा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले 40 सालों से आप लोगों ने जो साथ और विश्वास दिया है. मैं अब उसका बोझ नकुल को देने जा रहा हूं. बता दें कि कमलनाथ इस सीट से पिछली 9 बार से लोकसभा सासंद चुने जा रहे हैं. उनके इस बयान के बाद ऐसा माना जा रहा है कि छिंदवाड़ा से कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ चुनाव लड़ेंगे.  मुख्यमंत्री ने आगे कहा, अब इनसे (नकुलनाथ) अपना काम कराइएगा. मैं तो पीछे रहूंगा ही, मगर इनको भी आपको सिखाना है. इनको भी मौका देना है, ताकि हम विकास का नया इतिहास बनाएं.  


कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का बड़ा बयान, कहा-इस वजह से दोबारा पीएम नहीं बनेंगे नरेंद्र मोदी

टिप्पणियां

राज्य में कांग्रेस को बहुमत मिलने के बाद कमलनाथ मुख्यमंत्री बने. वह खुद छिंदवाड़ा विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने वाले हैं, क्योंकि मुख्यमंत्री बनने के बाद छह माह की अवधि के भीतर विधायक निर्वाचित होना आवश्यक है. राज्य में कांग्रेस की सुरक्षित सीटों में से एक छिंदवाड़ा संसदीय क्षेत्र भी है, लिहाजा कमलनाथ यहां से अपने पुत्र नकुलनाथ को चुनाव लड़ाने वाले हैं.  यह संदेश उन्होंने शनिवार को खुले मंच से दे दिया.  कमलनाथ के बाद उनके बेटे नकुलनाथ ने भी भाषण दिया. नकुलनाथ ने कहा कि  मैं आपके द्वारा दी गई ज़िम्मेदारी निभाउंगा. एक सवाल के जवाब में कलमनाथ ने कहा कि कांग्रेस प्रदेश में 22 से 23 सीटें जीतेगी. हमने 85 दिनों में जो काम किया, उसको लेकर जनता के बीच जाएंगे. 

Video: 'पार्टी में मनमुटाव नहीं, सरकार चलाना हमें आता है'



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement