CM कमलनाथ ने सर्जिकल स्ट्राइक पर खड़ा किया बड़ा सवाल, बोले- मोदी सरकार ने कहां और कौन सी स्ट्राइक की?

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सर्जिकल स्ट्राइक पर बड़ा सवाल खड़ा करते हुए पूछा कि मोदी सरकार ने कहां सर्जिकल स्ट्राइक और कौन सी स्ट्राइक की.

CM कमलनाथ ने सर्जिकल स्ट्राइक पर खड़ा किया बड़ा सवाल, बोले- मोदी सरकार ने कहां और कौन सी स्ट्राइक की?

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ- फाइल फोटो

छिंदवाड़ा:

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सर्जिकल स्ट्राइक पर बड़ा सवाल खड़ा करते हुए पूछा कि मोदी सरकार ने कहां सर्जिकल स्ट्राइक और कौन सी स्ट्राइक की. गुरुवार को छिंदवाड़ा पहुंचकर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान पर तीखे हमले करते हुए कहा कि शिवराज श्रेय की राजनीति करते हैं और उनका मुंह बहुत चलता है. मोदी सरकार पर सवाल उठाते हुए कमलनाथ ने कहा कि यह पाकिस्तान की बात करते है, इन्हें ध्यान नहीं कि इंदिराजी की सरकार के समय 90 हजार पाकिस्तानी जवानों ने समर्पण किया था. यह उसकी बात नहीं करते यह राष्ट्रवाद की बात करते है. इन्होंने कौन सी सर्जिकल स्ट्राइक की कब की कौन सी सर्जिकल स्ट्राइक की है, देश को खुलकर बताइये.

अपनी ही सरकार के खिलाफ ज्योतिरादित्य सिंधिया के सड़क पर उतरने वाले बयान पर बोले CM कमलनाथ, 'तो उतर जाएं'

इससे पहले सागर जिले में आयोजित किए गए एक कार्यक्रम में कमलनाथ ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि मुंह चलाने और देश चलाने में बहुत अंतर होता है. CM कमलनाथ ने कहा था कि मोदी जी ध्यान मोड़ने के लिए कभी राष्ट्रवाद की बात करेंगे, कभी पाकिस्तान की बात करेंगे लेकिन नौजवानों और किसानों की बात नहीं करेंगे. मुंह चलाने में और देश चलाने में बहुत अंतर होता है.' कमलनाथ इससे पहले भी बेरोजगारी, अर्थव्यवस्था समेत कई मुद्दों को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोल चुके हैं.

मध्य प्रदेश: ज्योतिरादित्य सिंधिया के बयान पर कमलनाथ सरकार के मंत्री आमने-सामने


बताते चलें कि कमलनाथ सरकार द्वारा शहरी बेरोजगारों के लिए शुरू की गई 'मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना' के तहत बेरोजगारों को अब चार हजार रुपये की जगह पांच हजार रुपये मासिक मिलेंगे. सूबे के जनसंपर्क मंत्री पी. सी. शर्मा ने इस बारे में कहा था, 'राज्य के शहरी गरीब युवाओं के लिए 100 दिन का रोजगार उपलब्ध कराने के लिए 'मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना' चलाई गई है. इस योजना में युवाओं को प्रशिक्षण के साथ चार हजार रुपये मासिक मानदेय दिया जाता है. इसे बढ़ाकर अब पांच हजार रुपये किया जा रहा है.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: मध्य प्रदेश : निवेशकों के लिए तेजी से उभरता विकल्प