कांगड़ा : रामा राम और बिमला देवी को पुलवामा में शहीद हुए बेटे तिलक राज पर गर्व

कांगड़ा के शहीद हुए जवान के माता-पिता ने कहा कि उन्हें इस शहादत पर गर्व, शनिवार को होगा अंतिम संस्कार

कांगड़ा : रामा राम और बिमला देवी को पुलवामा में शहीद हुए बेटे तिलक राज पर गर्व

पुलवामा में हुए हमले में कांगड़ा के निवासी सीआरपीएफ जवान तिलक राज शहीद हो गए.

खास बातें

  • पिछले महीने ही तिलक राज के बेटे का जन्म हुआ
  • तीन साल का है तिलक राज का बड़ा बेटा
  • परिवार ने कहा बेटे को बड़ा होने पर मिले सरकारी नौकरी
धर्मशाला:

पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ के 40 कर्मियों में से एक तिलक राज के परिवार में कुछ समय पहले ही किलकारी गूंजी थी लेकिन पुलवामा की घटना ने पूरे परिवार को हिला दिया है.

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के जावील के रहने वाले तिलक राज गुरुवार को हुए हमले से तीन दिन पहले ही अपने घर से निकले थे. पिछले महीने ही उनके बेटे का जन्म हुआ है. पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुआ हमला राज्य में अब तक हुए हमलों में से बेहद भयानक है.

राज के परिवार में उनका एक और बेटा है जो अभी तीन साल का है. इसके अलावा उनके परिवार में उनके माता-पिता और बड़े भाई है. उनके माता-पिता रामा राम और बिमला देवी ने कहा कि उन्हें अपने बेटे पर गर्व है जिसने देश के लिए शहादत दे दी.

पुलवामा हमले को लेकर सर्वदलीय बैठक आज, सरकार अपनी कार्रवाई की जानकारी देगी

परिवार सहित धेवा गांव में हमले की खबर आते ही शोक की लहर छा गई. शहीद के पिता ने कहा, ‘‘ हमने अपना बेटा खोया लेकिन हम चाहते हैं कि पाकिस्तान को करारा जवाब मिले ताकि आगे से ऐसे हमलों को अंजाम देने की उसकी हिम्मत न हो.''

कांगड़ा के पुलिस उपायुक्त संदीप कुमार ने कहा, ‘‘ तिलक राज इस हमले में घायल हुए थे और कल कश्मीर में सेना के एक अस्पताल में उनकी मौत हो गई.'' अधिकारी ने बताया कि वह शहीद का पार्थिव शरीर यहां पहुंचने की प्रतीक्षा कर रहे हैं. परिवार दुख में डूबा है.

परिवार ने सरकार से मांग की है कि वह तिलक राज के बेटे को बड़ा होने पर सरकारी नौकरी दे. मुख्यमंत्री ने शहीद परिवार को 20 लाख रुपये देने की घोषणा की है और वह शनिवार की सुबह शहीद के अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने के लिए धेवा में मौजूद रह सकते हैं. मुख्यमंत्री ने फोन पर शहीद के पिता से बातचीत की है.

VIDEO : पीएम मोदी ने दी शहीदों को श्रद्धांजलि

राज्य के मंत्री किशन कपूर और विधायक अर्जुन सिंह ने भी परिवार से मुलाकात की और परिवार को तत्काल सहायता के तौर पर पांच लाख रुपये का चेक दिया. कांग्रेस और भाजपा दोनों ने मुआवजा राशि की घोषणा का स्वागत किया. राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने राजभवन में विधायकों के साथ रात्रिभोज रद्द कर दिया.
(इनपुट भाषा से)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com