NDTV Khabar

कन्नड संगठनों ने बुलाया कर्नाटक बंद, महाराष्ट्र एकीकरण समिति के खिलाफ कार्रवाई की मांग

महाराष्ट्र एकीकरण समिति पर कुछ इलाक़ों में कन्नड विरोधी गतिविधि करने का आरोप है. साथ ही बंद बुलाने वाले संगठनों की मांग है कि उत्तर कर्नाटक को पानी की आपूर्ति के लिए बनाए जाने वाले कालसा बुंदूरी प्रोजेक्ट का काम तेज़ी से हो, इसके लिए प्रधानमंत्री हस्तक्षेप करें. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कन्नड संगठनों ने बुलाया कर्नाटक बंद, महाराष्ट्र एकीकरण समिति के खिलाफ कार्रवाई की मांग

कर्नाटक में बंद के दौरान सड़क पर लोग.

खास बातें

  1. कन्नड़ भाषा को स्कूल के पाठ्यक्रम में प्राथमिकता दी जाए.
  2. उत्तर कर्नाटक में सक्रिय महाराष्ट्र एकीकरण समिति पर बैन
  3. कालसा बुंदूरी प्रोजेक्ट का काम तेज़ी से हो, प्रधानमंत्री हस्तक्षेप करें
बेंगलुरु: कन्नड संगठनों ने आज कर्नाटक बंद बुलाया है. उनकी मांग है कि कन्नड़ भाषा को स्कूल के पाठ्यक्रम में प्राथमिकता दी जाए. साथ ही उत्तर कर्नाटक में सक्रिय महाराष्ट्र एकीकरण समिति को न सिर्फ़ बैन किया जाए बल्कि उनके कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ़ कार्रवाई की जाए. महाराष्ट्र एकीकरण समिति पर कुछ इलाक़ों में कन्नड विरोधी गतिविधि करने का आरोप है. साथ ही बंद बुलाने वाले संगठनों की मांग है कि उत्तर कर्नाटक को पानी की आपूर्ति के लिए बनाए जाने वाले कालसा बुंदूरी प्रोजेक्ट का काम तेज़ी से हो, इसके लिए प्रधानमंत्री हस्तक्षेप करें. 

टिप्पणियां
किसानों की क़र्ज माफ़ी, महदियी नदी जल विवाद में पीएम के हस्तक्षेप और सूखा प्रभावित इलाक़ों में जल संकट के एक स्थायी समाधान की मांग को लेकर आज कर्नाटक बंद बुलाया है. कन्नड ओकूता के बैनर तले इस बंद को बुलाया गया है जो कन्नड निकायों का एक संघ है. 

किसानों की क़र्ज माफ़ी का अलावा इस संगठन से जुड़े लोगों ने महाराष्ट्र एकीकरण समिति के कार्यकर्ताओं को राज्य से निष्कासित करने की मांग कर रहे हैं. दरअसल महाराष्ट्र एकीकरण समिति पर कुछ इलाक़ों में कन्नड विरोधी गतिविधि करने का आरोप है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement