NDTV Khabar

कर्नाटक में जदएस-कांग्रेस गठबंधन को लेकर उप-मुख्यमंत्री परमेश्वरा ने किया यह बड़ा दावा

कांग्रेस नेता का यह बयान उन्हीं की पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया के बयान के जवाब में आया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कर्नाटक में जदएस-कांग्रेस गठबंधन को लेकर उप-मुख्यमंत्री परमेश्वरा ने किया यह बड़ा दावा

जी परमेश्वरा की फाइल फोटो

खास बातें

  1. सरकार न चलने की अटकलें गलत
  2. परमेश्वरा ने कहा हम पांच साल जरूर पूरा करेंगे
  3. कांग्रेस के नेता सिद्धारमैया ने किया था दावा
नई दिल्ली:

कर्नाटक कांग्रेस के प्रमुख और राज्य के उप-मुख्यमंत्री जी परमेश्वरा ने ने राज्य में कांग्रेस और जदएस के गठबंधन को लेकर बुधवार को एक बड़ा दावा किया. उन्होंने कहा कि गठबंधन की यह सरकार बगैर किसी दिक्कत के अगले पांच साल तक चलेगी. कांग्रेस नेता का यह बयान उन्हीं की पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया के बयान के जवाब में आया है. गौरतलब है कि सिद्धरमैया ने एक दिन पहले कहा था कि गठबंधन में आये तनाव के चलते उन्हें संदेह है कि यह सरकार शायद ही अपना कार्यकाल पूरा कर पाए. सिद्धरमैया ने कहा था कि यह (सरकार) तब तक रहेगी जब तक संसदीय चुनाव पूरे नहीं हो जाते. उसके बाद सभी घटनाक्रम होंगे. वहीं परमेश्वरा ने सिद्धरमैया के इस दावे पर कोपल में संवाददाताओं से कहा कि अध्यक्ष (कांग्रेस की राज्य की इकाई के) के तौर पर मैं यह स्पष्टीकरण दे रहा हूं कि हम पांच साल तक इस सरकार को चलाने के लिए सहमत हुए हैं. अन्य लोग बाहर जो बात कर रहे हैं, वह अप्रासंगिक हैं. उन्होंने कहा , कि बाहरी लोग अलग तरह से बात करते हैं.

यह भी पढ़ें: मठ के धर्म गुरु ने 'लव जिहाद' रोकने के लिए बनाई हिन्दू टास्क फोर्स, विवाद शुरू


राजनीतिक कारणों से वे कहते हैं कि यह सरकार केवल एक साल चलेगी. कुछ लोग कहते हैं कि दो साल. भले ही कांग्रेस विधायक सिद्धरमैया से मिलने के लिए लगातार जा रहे हो किंतु परमेश्वरा को इसमें कुछ भी गलत नहीं दिखता. उन्होंने कहा कि यदि हम (कांग्रेस के विधायक) अपनी पार्टी के किसी व्यक्ति से मिलते हैं तो बुरा क्या है ? इसमें भ्रम कहां है ? बिलकुल भी भ्रम नहीं है. सिद्धरमैया का मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी के साथ नया बजट पेश करने को लेकर मतभेद है. कांग्रेस नेता इस बात पर बल दे रहे हैं कि मुख्यमंत्री के तौर पर उन्होंने फरवरी में जो बजट पेश किया था वह पूर्ण है.

यह भी पढ़ें: 2019 लोकसभा चुनाव से पहले महागठबंधन व्यवहारिक नहीं : पवार 

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले कर्नाटक में बजट को लेकर कांग्रेस और जदएस के बीच गतिरोध की खबर सामने आई थी. पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया चाहते थे कि जो बजट उन्होंने पेश किया था उसे ही कुमारास्वामी सरकार आगे बढ़ाए, नया बजट पेश न किया जाए. लेकिन कहा जा रहा है कि राहुल गांधी के हस्‍ताक्षेप के बाद कुमारास्वामी नए बजट की तैयारी में जुट गए हैं. विधानसभा में बजट को लेकर गहमा-गहमी जारी है.

यह भी पढ़ें: कनार्टक में कैबिनेट का विस्तार जल्दी होगा : परमेश्वर 

मुख्यमंत्री कुमारास्वामी दुविधा में है कि भले ही राहुल गांधी की दखल के बाद वे नए सिरे से बजट बनाने में जुटे हो लेकिन इस बजट के भविष्य को लेकर तस्वीर साफ नहीं है. कर्नाटक मुख्यमंत्री एच डी कुमारास्वामी ने कहा था कि बजट आना है लेकिन पेश हो पाएगा या नही इस पर लोग सवाल उठा रहे हैं. पिछले साल फरवरी में जब बजट पेश हुए था तब के 100 एमएलए हार गए हैं. (इनपुट भाषा से) 

टिप्पणियां

VIDEO: बजट पर कांग्रेस और जेडीएस में टकराव.

ऐसे में नए विधायकों का भी ख्याल रखना है. सरकार 5 जुलाई को बजट पेश करना चाहती है. पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया मंगलोर में इलाज करवा रहे है. वह किसानों की कर्ज माफी के पक्ष में नहीं है. वहीं कर्नाटक में जेडीएस और कांग्रेस गठबंधन सरकार किसानों के 10,000 करोड़ रुपये का कर्ज माफ करेगी. मुख्यमंत्री कार्यालय के एक अधिकारी ने बताया, 'किसानों द्वारा जिला सहकारी बैंकों और राज्य सहकारी बैंकों से लिए गए कर्ज और उसका ब्याज माफ किया जाएगा जिससे राजकोष पर 10,000 करोड़ रुपये का दबाव आएगा.' मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी की अध्यक्षता में हुई एक बैठक में किसानों की कर्ज माफी पर फैसला लिया गया.(इनपुट भाषा से) 
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement