कर्नाटक-केरल और असम में नए साल से खुले स्कूल, कक्षाओं में उत्साहित दिखे छात्र

करीब 8-9 माह बाद स्कूल खुलने से छात्र खुश हैं. स्कूलों में सोशल डिस्टेंसिंग (Schools Open) का पालन पूरी तरह होता दिखाई दिया. फेस मास्क और दूसरे प्रोटोकाल का भी छात्र पालन करते दिखाई दिए.

कर्नाटक-केरल और असम में नए साल से खुले स्कूल, कक्षाओं में उत्साहित दिखे छात्र

देश के कई अन्य राज्यों में भी बड़ी कक्षाओं के छात्रों के लिए खुल रहे हैं स्कूल (प्रतीकात्मक)

बेंगलुरु/गुवाहाटी/तिरुवनंतपुरम:

देश में नए साल से कई राज्यों में स्कूल खुलने की शुरुआत हो गई. कर्नाटक (Karnataka) , केरल (Kerala) और असम (Assam) में शुक्रवार से स्कूल खुल गए. कर्नाटक और केरल में 10वीं और 12वी क्लास के स्कूल खुले हैं. वहीं असम में पहली से 10वी क्लास तक के स्कूल खुले हैं. कर्नाटक में 10वीं और 12वीं की कक्षाएं मार्च के बाद पहली बार खुले हैं. छात्र खुश हैं. स्कूलों में सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing Schools) का पालन पूरी तरह होता दिखाई दिया. फेस मास्क (Face Mask) और दूसरे प्रोटोकाल का भी छात्र पालन करते दिखाई दिए.

छात्र अक्षय कुमार छात्र ने कहा कि उन्हें अच्छा लग रहा है, क्योंकि ऑनलाइन क्लासेज में समझ में नहीं आता था. स्कूल प्रशासन की तरफ से पूरी तैयारी की गई है ताकि कक्षाएं कोरोना फैलाने का ज़रिया न बनें. कर्नाटक निजी स्कूल संघ के अध्यक्ष शशि कुमार ने कहा कि हमने सैनिटाइजेशन का पूरा धयान रखा है और कोविड प्रोटोकॉल लागू करने में कोई कसर नही छोड़ी जाएगी. अभिभावकों को भी स्कूलों में पर्याप्त व्यवस्था देखकर भरोसा बढ़ रहा है.


असम में नर्सरी से 5वीं के क्लास शुरू हो गई हैं. छठवीं कक्षा से ऊपर की कक्षाएं नवंबर से ही चल रही हैं. हालांकि स्कूलों में उपस्थिति दूसरे राज्यों की ही तरह ज़रूरी नही है. छात्र शाहनूर हुसैन छात्र ने कहा कि क्लास में आकर उन्हें बहुत खुशी है. अब पढ़ाई में बाधा नही आएगी.  घर मे रहकर पढ़ाई करना मुश्किल था.इसी तरह केरल में भी 10वीं और 12वीं क्लास के छात्रों के लिए क्लास शुरू हो गए हैं. सभी जगहों पर छात्र कम आए. हालांकि जैसे-जैसे भरोसा बढ़ेगा, वैसे ही छात्रों की क्लास में संख्या भी बढ़ेगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com