NDTV Khabar

कर्नाटक: परीक्षा में नकल रोकने के लिए शिक्षक ने छात्रों को पहनाया कार्टन बॉक्स, शिक्षा विभाग ने मांगा जवाब 

हावेरी बेंगलुरु से 335 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. अभी तक मिली जानकारी के अनुसार यह चौकाने वाली घटना बुधवार की है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कर्नाटक: परीक्षा में नकल रोकने के लिए शिक्षक ने छात्रों को पहनाया कार्टन बॉक्स, शिक्षा विभाग ने मांगा जवाब 

परीक्षा में नकल रोकने के लिए छात्रों को पहनाया कार्टन बॉक्स

नई दिल्ली:

कर्नाटक से एक हैरान करने वाली घटना सामने आई है. यहां एक प्री-यूनिवर्सिटी में परीक्षा के दौरान नकल रोकने के लिए करीब 50 छात्रों के सिर पर कार्टन का डिब्बा पहना दिया. पूरी घटना हावेरी जिले की है. हावेरी जिले के डिप्टी डायरेक्टर ऑफ पब्लिक इंस्ट्रक्शन (डीडीपीआई) ने फोन पर बताया कि हमनें भगत प्री-यूनिवर्सिटी कॉलेज को एक नोटिस जारी कर अपने छात्रों को परीक्षा के दौरान नकल करने से रोकने के लिए जबरन कार्डबोर्ड बॉक्स (गत्ते का डिब्बा) पहनाने को लेकर स्पष्टीकरण मांगा है. बता दें कि हावेरी बेंगलुरु से 335 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. अभी तक मिली जानकारी के अनुसार यह चौकाने वाली घटना बुधवार की है.

परीक्षा में नकल रोकने में कामयाब रही हमारी सरकार : योगी आदित्यनाथ


इसका खुलासा तब हुआ जब शुक्रवार को को-एजुकेटिड निजी कॉलेज के छात्रों का परीक्षा हॉल का एक एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया जिसमें छात्र गत्ते का डिब्बा पहने परीक्षा देते दिख रहे हैं. छात्र अपनी कक्षा में अर्थशास्त्र और रसायन विज्ञान की परीक्षा दे रहे थे. अधिकारी ने कहा कि वजह जो भी हो, उन्हें (छात्रों को) लिखित परीक्षा के दौरान डिब्बे पहनने के लिए नहीं कहा जा सकता. हमारी ओर से ऐसी कोई सलाह नहीं दी गई, न ही ऐसा कोई नियम है.

टिप्पणियां

LLB की परीक्षा में चल रहा था नकल का खेल, DM ने की परीक्षा रद्द करने की सिफारिश

हालांकि, छात्र सांस ले सके और देख सकें, इसलिए डिब्बों को सामने से काटा गया था, लेकिन वे अपने बेंच पर बैठे अन्य छात्रों की उत्तर पुस्तिका देखने के लिए सिर को बाएं या दाएं नहीं हिला सकते थे. इस घटना पर राज्य के शिक्षा मंत्री एस. सुरेश कुमार ने कहा कि इस तरह के कार्य अस्वीकार्य है. कुमार ने इस पूरी घटना को लेकर ट्वीट भी किया. उन्होंने कहा कि किसी के पास ऐसा कोई अधिकार नहीं है कि वह छात्रों के साथ जानवरों जैसा व्यवहार करे. इस अनाचार से जल्द निपटा जाएगा.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement