Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

कर्नाटक में BJP-कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प, बेंगलुरु में अगले 48 घंटों तक धारा 144 लागू

बेंगलुरु में एक फ्लैट के बाहर बीजेपी और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई गई. रेस कोर्स रोड पर एक फ्लैट में दो निर्दलीय विधायक ठहरे हुए थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कर्नाटक में BJP-कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प, बेंगलुरु में अगले 48 घंटों तक धारा 144 लागू

Karnataka Trust Vote: विश्वास प्रस्ताव से पहले झड़प

खास बातें

  1. विश्वास मत से पहले कांग्रेस-बीजेपी कार्यकर्ताओं में हुई झड़प
  2. दोनों पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जमकर लगाए नारे
  3. झड़प के बाद बेंगलुरु में अगले 48 घंटों के लिए लगी धारा 144
बेंगलुरु:

बेंगलुरु में एक फ्लैट के बाहर बीजेपी और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई गई. रेस कोर्स रोड पर एक फ्लैट में दो निर्दलीय विधायक ठहरे हुए थे. कांग्रेस के कार्यकर्ता वहां पहुंच गए. कुछ देर में बीजेपी के कार्यकर्ता भी वहां पहुंच गए और दोनों पार्टी के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई. यह घटना विश्वास मत से पहले घटित हुई. वहीं आपको बता दें कि कर्नाटक विधानसभा में कर्नाटक में कांग्रेस-जेडी(एस) की सरकार विधानसभा में विश्वास मत हासिल करने में विफल रही और सरकार गिर गई. इसी के साथ राज्य में करीब तीन हफ्ते से चल रहे राजनीतिक ड्रामे का अंत हो गया. विश्वास मत से पैदा हुए तनाव के मद्देनदर शाम 6 बजे से बेंगलुरु में सभी शराब की दुकानें और बार को अगले 48 घंटों के लिए बंद कर दिया गया है. साथ ही बेंगलुरु में अगले 48 घंटों के लिए धारा 144 भी लगाई गई है. पुलिस कमिश्नर आलोक कुमार ने कहा कि नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. 

कर्नाटक: विधानसभा में नहीं पहुचे सत्ता पक्ष के MLAs तो स्पीकर बोले- बहुमत तो छोड़िए, आप अपनी विश्वसनीयता भी खो देंगे


जानकारी के मुताबिक रेड कोर्स स्थित फ्लैट पर दो विधायक ठहरे हुए थे. जहां भारी संख्या में कांग्रेस के कार्यकर्ता पहुंच गए और उन्हें गठबंधन के पक्ष में वोट डालने के लिए जबरन ले जाने लगे. इसी दौरान वहां बीजेपी के कार्यकर्ता पहुंच गए और कांग्रेस कार्यकर्ताओं का विरोध गए. दोनों विधायकों को लेकर दोनों पार्टियों के बीच झड़प तेज होती चली गई. झड़प के दौरान ही कर्नाटक पुलिस वहां पहुंच गई और दोनों पार्टियों के झगड़े में बीच बचाव किया. कांग्रेस का आरोप है कि बीजेपी, हमारे विधायकों को लालच दे रही है ताकि सरकार को गिराया जा सके.  

कर्नाटक संकट: JDS विधायक ने बागी विधायकों को दी चुनौती, कहा- हिम्मत है तो आगे चुनाव न लड़ने का ऐलान करें

टिप्पणियां

मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी को संख्या बल का साथ नहीं मिला और उन्होंने विश्वास मत प्रस्ताव पर चार दिन की चर्चा के खत्म होने के बाद हार का सामना किया. विधानसभा में पिछले बृहस्पतिवार को उन्होंने विश्वास मत का प्रस्ताव पेश किया था. विधानसभा अध्यक्ष के आर रमेश कुमार ने ऐलान किया कि 99 विधायकों ने प्रस्ताव के पक्ष में वोट दिया है जबकि 105 सदस्यों ने इसके खिलाफ मत दिया है. इस प्रकार यह प्रस्ताव गिर गया. 

Video: राज्यपाल का निर्देश देना सही नहीं- पीडीटी आचार्य



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... चलती ट्रेन से लटककर स्टंट कर रहा था लड़का, हाथ फिसला और हुआ ऐसा, रेल मंत्री बोले- 'ये बहादुरी नहीं मूर्खता है...' देखें Video

Advertisement