कश्मीर के अलगाववादी नेता यासीन मलिक को पुलिस ने हिरासत में लिया

छात्र प्रदर्शनकारियों पर बल के कथित इस्तेमाल के खिलाफ एक विरोध मार्च का नेतृत्व करने के लिए जा रहे थे मलिक

कश्मीर के अलगाववादी नेता यासीन मलिक को पुलिस ने हिरासत में लिया

अलगाववादी नेता यासीन मलिक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है.

खास बातें

  • मलिक को खानयार में हिरासत में ले लिया गया
  • जेकेएलएफ ने यासीन पर हमला करने का आरोप लगाया
  • कहा, पुलिस मलिक को खानयार थाने घसीट कर ले गई
श्रीनगर:

यहां एक विरोध मार्च का नेतृत्व करने जामिया मस्जिद जा रहे जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के अध्यक्ष मोहम्मद यासीन मलिक को पुलिस ने आज हिरासत में ले लिया. मलिक छात्र प्रदर्शनकारियों पर बल के कथित इस्तेमाल के खिलाफ एक विरोध मार्च का नेतृत्व करने के लिए जा रहे थे.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मलिक को खानयार में हिरासत में ले लिया गया. उसे कोठी पुलिस थाने में रखा गया है. इस बीच जेकेएलएफ के प्रवक्ता ने बताया कि मलिक छात्रों पर बल के इस्तेमाल, एनआईए द्वारा नेताओं की अवैध रूप से लगातार गिरफ्तारी और कठुआ बलात्कार एवं हत्या मामले के खिलाफ एक मार्च का नेतृत्व करने जा रहे थे.

यह भी पढ़ें : श्रीनगर में विरोध प्रदर्शन रोकने के लिए प्रतिबंध

प्रवक्ता ने दावा किया कि पुलिस ने जेकेएलएफ अध्यक्ष को ले जाने से पहले उन पर ‘‘हमला’’ किया. प्रवक्ता ने कहा,‘‘पुलिस कर्मियों ने जेकेएलएफ अध्यक्ष पर हमला किया जिससे वह घायल हो गए और मलिक को खानयार थाने घसीट कर ले गए जहां से उन्हें और जेकेएलएफ के एक अन्य नेता बशीर कश्मीरी को कोठीबाग पुलिस थाने स्थानांतरित किया गया.’’

VIDEO : अलगाववादियों की बैठक नाकाम

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इस बीच हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के उदारवादी धड़े के नेता मीरवाइज उमर फारूक ने कथित पुलिस कार्रवाई की निंदा की है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)