केरल में हथिनी की दर्दनाक मौत का मामला : सीएम विजयन बोले, तीन संदिग्‍धों पर टिकी हमारी नजर

सीएम ने एक ट्वीट करके कहा, 'तीन संदिग्धों पर ध्यान केंद्रित करते हुए एक जांच जारी है. पुलिस और वन विभाग संयुक्त रूप से घटना की जांच करेंगे. जिला पुलिस प्रमुख और जिला वन अधिकारी ने आज घटनास्थल का दौरा किया. हम दोषियों को न्याय दिलाने के लिए हरसंभव कोशिश करेंगे.

खास बातें

  • मुख्‍यमंत्री ने कहा, मामले की जांच जारी है
  • पुलिस और वन विभाग कर रहे मिलकर जांच
  • विस्‍फोटक भरा अनानास खाने से हुई थी हथिनी की मौत

केरल में गर्भवती मादा हथिनी की दर्दनाक मौत का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. केरल के मुख्‍यमंत्री पिनाराई विजयन ने कहा है कि हमारी नजर तीन संदिग्‍धों पर टिकी हुई है. सीएम ने एक ट्वीट करके कहा, 'तीन संदिग्धों पर ध्यान केंद्रित करते हुए एक जांच जारी है. पुलिस और वन विभाग संयुक्त रूप से घटना की जांच करेंगे. जिला पुलिस प्रमुख और जिला वन अधिकारी ने आज घटनास्थल का दौरा किया. हम दोषियों को न्याय दिलाने के लिए हरसंभव कोशिश करेंगे.'एक अन्‍य ट्वीट में उन्‍होंने लिखा, 'पलक्कड़ जिले में एक दुखद घटना में एक गर्भवती मादा हथिनी की जान चली गई. हम आपको आश्वस्त करना चाहते हैं कि आपकी चिंताएं व्यर्थ नहीं जाएंगी, न्याय की जीत होगी.'

इस बीच, वन विभाग ने कहा है कि जांच में महत्वपूर्ण कामयाबी मिली है. हथिनी की मौत की छानबीन के लिए गठित विशेष जांच टीम ने कई संदिग्धों से पूछताछ की है. वन विभाग ने कहा है कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने के लिए वह कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेगा. विभाग ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘हथिनी के शिकार के लिए दर्ज मामले में कई संदिग्धों से पूछताछ की गई है. इस संबंध में गठित एसआईटी को अहम सुराग मिले हैं. वन विभाग दोषियों को अधिकतम सजा दिलवाने के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेगा.''गौरतलब है कि केरल की साइलेंट वैली में एक मादा हाथी के पटाखों से भरे अनानास खाने से मौत की घटना ने लोगों और वन्‍य जीव प्रेमियों को झकझोरकर रख दिया था. विस्‍फोटक इस हथिनी के मुंह के फट गए थे और 27 मई को इसकी मौत हो गई थी. के

केरल सरकार ने कहा है कि पलक्कड जिले में पिछले माह एक गर्भवती हथिनी की निर्मम हत्या मामले की जांच वन्यजीव अपराध जांच दल करेगा. दूसरी ओर, केन्द्र सरकार ने इस मामले पर गंभीर रुख अपनाते हुए राज्य से रिपोर्ट मांगी है. केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने घटना पर गंभीर रुख अपनाते हुए कहा कि केन्द्र ने इस पर पूरी रिपोर्ट मांगी है और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.उन्होंने कहा,‘‘हमने घटना पर पूरी रिपोर्ट मांगी है. दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.'' उद्योगपति रतन टाटा ने घटना पर दुख व्यक्त करते हुए गर्भवती हथनी की हत्या को ‘‘सोचीसमझी हत्या'' करार दिया और इस वन्‍य जीव के लिए न्याय की मांग की. उन्होंने ट्वीट किया,‘‘मैं यह जान कर सदमे में हूं और दुखी हूं कि कुछ लोगों ने निर्दोष, गर्भवती हथिनी को पटाखों से भरा अनानास खिला दिया जिससे उसकी मौत हो गई. ''उन्होंने कहा,‘‘निर्दोष पशुओं के खिलाफ ऐसे आपराधिक कृत्य किसी मनुष्य की सोची समझी हत्या के काम से किसी भी तरह अलग नहीं है.''घटना के बाद बॉलीवुड कलाकार अनुष्का शर्मा, श्रद्धा कपूर, रणदीप हुड्डा आदि ने पशुओं के खिलाफ इस प्रकार की क्रूरता के खिलाफ कठोर कदम उठाने की मांग की है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

सोशल मीडिया पर शेयर की गई तस्वीरों में इस हथिनी को नदी में मुंह और सूंड को दबाकर खड़ा देखा गया था, शायद असहनीय दर्द से राहत पाने के लिए उसने ऐसा किया था. बाद में इसी स्थिति में उसकी मौत हो गई थी. वन अधिकारी आशिक अली ने NDTV को बताया, "हमें नहीं पता कि घटना कब हुई. लेकिन हमें संदेह है कि यह लगभग 20 दिन पहले हुआ होगा. "दिल को दहला देने वाली घटना तब सामने आई थी जब वन अधिकारी मोहन कृष्णन ने अपने फेसबुक पेज पर एक इमोशनल पोस्ट किया था. कृष्णन ने अपने पोस्‍ट में लिखा, "जब हमने देखा कि वह नदी में खड़ी है और उसका सिर पानी में डूबा हुआ था. उसे इस बात का अहसास हो गया था कि वह मरने वाली थी. ऐसे में उसने खड़े रहते हुए जलसमाधि ले ली." कृष्‍णन के पास ही हथिनी को नदी के किनारे पर लाने की कठिन चुनौती थी जिसे उन्‍होंने पूरा किया. इस हथिनी ने साइलेंट वैली के जंगलों को छोड़ दिया था और भोजन की तलाश में पास के गाँव में भटक गई थी. देश में बने पटाखों के साथ अनानास का उपयोग आमतौर पर स्थानीय लोगों जंगली सूअरों के खिलाफ अपने खेतों की रक्षा के लिए करते हैं. वन अधिकारियों के अनुसार, संदेह है कि हथिनी ने इन्‍हीं अन्‍नानास में से एक खाया था.

VIDEO: केरल : हथिनी की हत्या पर लोगों में गुस्सा, CM का कार्रवाई का वादा