NDTV Khabar

केंद्र से टकराव के मूड में केरल सरकार : पशु बिक्री प्रतिबंध के खिलाफ कानून लाने पर कर रही विचार

केरल की सरकार ने रविवार को कहा कि वध के लिए पशुओं की बिक्री पर केंद्र के प्रतिबंध के विरोध में वह कानून ला सकती है. युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा सरेआम एक बछड़े को काटे जाने पर चल रहे राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप के बीच सरकार की तरफ से ये संकेत दिए गए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
केंद्र से टकराव के मूड में केरल सरकार : पशु बिक्री प्रतिबंध के खिलाफ कानून लाने पर कर रही विचार

राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप के बीच केरल सरकार की तरफ से ये संकेत दिए गए हैं....

खास बातें

  1. केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने लिख चुके हैं पीएम को पत्र
  2. कहा - आदतों को लेकर सबक सीखने की जरूरत नहीं है
  3. विपक्षी कांग्रेस नीत यूडीएफ ने प्रतिबंध के खिलाफ कल 'काला दिवस' मनाएगा
कन्नूर:

केरल की सरकार ने रविवार को कहा कि वध के लिए पशुओं की बिक्री पर केंद्र के प्रतिबंध के विरोध में वह कानून ला सकती है. युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा सरेआम एक बछड़े को काटे जाने पर चल रहे राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप के बीच सरकार की तरफ से ये संकेत दिए गए. केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने कल प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर केंद्र के निर्णय का विरोध किया था.

उन्होंने भाजपा नीत केंद्र सरकार और आरएसएस पर प्रहार करते हुए कहा कि राज्य के लोगों को नयी दिल्ली या नागपुर से खान-पान की आदतों को लेकर सबक सीखने की जरूरत नहीं है. स्थानीय प्रशासन मंत्री के टी जलील ने कहा कि केंद्र के पशु वध से निजात पाने के लिए सरकार नया कानून लाने पर विचार कर सकती है.

टिप्पणियां

इस बीच विपक्षी कांग्रेस नीत यूडीएफ ने प्रतिबंध के खिलाफ कल ‘काला दिवस’ मनाने का निर्णय किया है. इस मुद्दे पर चल रहे वाद-विवाद के बीच पुलिस ने आज युवक कांग्रेस के कार्यकर्ता रिजिल मुकुलटी और उसके सहयोगियों के खिलाफ कन्नूर में खुलेआम बछड़ा काटने को लेकर मामला दर्ज किया. केंद्र के प्रतिबंध के खिलाफ कांग्रेस और वामपंथी दलों द्वारा कल पूरे राज्य में आयोजित ‘गोमांस भोज’ के दौरान उन्होंने इस कृत्य को अंजाम दिया था. इस मुद्दे पर केरल में राजग ने मंगलवार को घटना का विरोध करने का निर्णय किया है.


(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement